गया । कोरोना के संक्रमण से बचने के लिए शहर से लेकर गांव तक लोगों ने जनता क‌र्फ्यू में हिस्सा लिया। इसलिए अधिकतर सड़कें सूनी रहीं। शाम को पांच बजे लोगों ने थाली बजाकर स्वास्थ्यकर्मियों एवं अन्य आकस्मिक कार्यो में लगे लोगों के प्रति धन्यवाद व्यक्त किया।

----

टनकुप्पा प्रखंड में जनता क‌र्फ्यू में बंद रहीं दुकानें

फोटो- 34

संवाद सू़त्र, टनकुप्पा: जनता क‌र्फ्यू का व्यापक समर्थन किया। प्रखंड के सभी हिस्सों में बंदी रही। लोगों ने सुबह से ही घरों में रहकर साफ -सफाई की। टाइम पास के लिए टीवी से चिपके रहे। मेडिकल स्टोर खुले रहे। सड़कों पर इक्का-दुक्का लोग आवश्यक कार्यो से निकले। बच्चे घर से बाहर क्रिकेट, फुटबॉल खेलते रहे।

हैंड वास एवं सैनिटाइजर की कमी: कोरोना वायरस से बचने के लिए हैंडवास एवं सैनिटाइजर का प्रयोग लोगों द्वारा किए जाने से माग बढ़ गई है। वहीं मास्क भी बाजार में अधिक दाम पर बिक रहा है। -

चौक-चौराहे पर नहीं दिखी भीड़

फोटो- 35

स्ावाद सूत्र बाराचट्टी:

प्रखंड क्षेत्र में जनता क‌र्फ्यू का भरपूर असर देखा गया। हर लोग अपने घरों में ही पूरा दिन व्यतीत किया। सोभ, सरमा, बाराचट्टी,भदेया बाजार के सभी व्यवासायिक प्रतिष्ठान बंद रहे। राष्ट्रीय राज मार्ग संख्या 2 पर एक भी वाहनों की आवाजाही नहीं हुई। लाइन होटलों पर जहा के तहा वाहन खड़े थे। रोही पंचायत के सरपंच बिनोद पासवान ने कहा कि कोरोना वायरस को रोकने के लिए अगर इस तरह का काम करना पडे़गा तो हमलोग तैयार हैं। राकेश कुमार कहते हैं कि क्षेत्र के लोगों ने सहयोग किया। इमामगंज क्षेत्र की सभी दुकानें रहीं बंद

फोटो- 37, 38

संवाद सूत्र, इमामगंज:

क्षेत्र में जनता क‌र्फ्यू का व्यापक असर देखने को मिला। इमामगंज मुख्य बाजार सहित रानीगंज, गुरीया गंगटी, सलैया, कोठी, बीकोपुर सलैया आदि सभी बाजार की दुकानें बंद रहीं। वहीं डुमरिया-पटना स्टेट हाईवे पर एक भी वाहन नहीं चले। क्षेत्र के लोग घरों में बैठे रहे। 65 वर्षीय देवनाथ पासवान और विनोद सिंह कहते हैं कि इस प्रकार की बंदी कभी नहीं देखने को मिला है।

इधर इमरजेंसी सुविधा के लिए दवा दुकानें, पेट्रोल पंप खुले रहे लेकिन वहा पर एक भी ग्राहक नहीं पहुंचे। वहीं शाम पाच बजे से लोगों ने थाली बजाया। - फोटो- 39

संवाद सूत्र, परैया :

क्षेत्र के लोगों ने जनता क‌र्फ्यू का समर्थन किया। मुख्य बाजार की सभी दुकानें बंद रहीं। सड़कों पर पूरी तरह सन्नाटा रहा। सिर्फ मेडिकल हॉल खुले रहे। वहीं सड़क पर वाहनों का आवागमन पूरी तरह ठप रहा। अस्पताल में डॉ. रमेश लाल अन्य चिकित्सा कर्मियों के साथ मुस्तैद रहे। अस्पताल आये तीन आपात कालीन रोगियों का उपचार किया गया। -

थाली व ताली बजाकर किया समर्थन

संवाद सूत्र, कोंच: प्रखंड के विभिन्न पंचायतों के गावों में थाली व ताली बजाकर जनता क‌र्फ्यू का समर्थन किया। आकस्मिक सेवा में लगे लोगों का समर्थन किया और धन्यवाद दिया। जनता क‌र्फ्यू के कारण असलेमपुर, गरारी, श्रीगाव, केर, गौहरपुर, खजुरी, मंझियावा, कोंच,परसावा आदि गांवों में थाली बजाया। -

जनता क‌र्फ्यू में प्रशासन रहा अलर्ट

संवादसूत्र, फतेहपुर:

जनता क‌र्फ्यू के दौरान क्षेत्र की सड़कों पर सन्नाटा पसरा रहा है। मुख्य बाजार में इक्का-दुक्का दुकानें ही खुली हुई थीं। वहीं प्रसाशन भी पूरी तरह मुस्तैद रहा। बीडीओे कुमुंद रंजन, सीओ विजय कुमार थानाध्यक्ष अबुजर हुसैन अंसारी दल-बल के साथ भम्रण किया। शाम को ताली, घटी बजाया। वाहनों के नहीं मिलने पर कुछ लोग परेशान रहे।

खिजरसराय में सड़क व गलियों में रहा सन्नाटा

संवाद सूत्र, खिजरसराय :

कोरोना के वायरस से बचने के लिए जनता क‌र्फ्यू में प्रखंड के लोगों ने सहयोग किया। क्षेत्र के सरबहदा, नई बाजार, कुड़वा, चिरैली, सरैया सहित सभी गाव में सड़कों और गलियों में सन्नाटा पसरा रहा। वहीं शाम पांच बजे बच्चों से लेकर बुजुगरें ने ताली-थाली, घटी व शख बजाकर करोना से बचाने के लिए कर्मवीरों का हौसला बढ़ाया। बीडीओ उदय कुमार ने प्रखंड इलाके में माइकिंग कर लोगों को कोरोना वायरस से बचाव करने के बारे में जानकारी दी। उन्होंने बताया कि 31 मार्च लोग अपने घरों में ही रहें।

जनता क‌र्फ्यू को मिला व्यापक समर्थन

संवाद सूत्र, गुरारू :

कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए जनता क‌र्फ्यू को प्रखंड में व्यापक समर्थन मिला। गाव से लेकर बाजार तक सन्नाटा पसरा रहा आवश्यक वस्तुओं में शामिल राशन, सब्जी आदि की दुकानें भी बंद रहीं। रेलवे स्टेशन पर पूरी तरह सन्नाटा रहा। जीटी रोड पर भी रहा सन्नाटा, इक्का-दुक्का वाहन दिखे

फोटो- 46

स्ावाद सहयोगी, शेरघाटी:

जनता क‌र्फ्यू का क्षेत्र में व्यापक असर दिखा। अनुमंडल मुख्यालय स्थित सभी प्रकार के मंडी बंद रहे। दूध की एकमात्र दुकान सुबह में अनुमंडल अस्पताल के पास खुली। मुख्यालय के प्राइवेट बस पड़ाव पर भी पसरा रहा। बस पड़ाव स्थित एक भी दुकान नहीं खुली। चाय और पान गुमटी भी बंद रही। नेशनल हाईवे पर भी आवागमन ठप रहा। इक्का-दुक्का लम्बी दूरी की बसें दिखीं। शहर के दर्जनों मंदिरों में भी सन्नाटा पसरा रहा। एक शिवाला, तीन शिवाला, राममंदिर और पद्मावती स्थान में भी श्रद्धालु नहीं दिखे। कोरोना वायरस से बचने के लिए सभी लोग घरों में रहे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस