गया । बिहार माध्यमिक शिक्षक संघ, पटना के आह्वान पर 25 वें दिन हड़ताल तालाबंदी एवं भूख हड़ताल जारी रही। अध्यक्षता रागीब हसन ने की। उन्होंने कहा कि बिहार माध्यमिक शिक्षक संघ का इतिहास संघर्ष का है। अपनी चट्टानी एकता व संघषरें के बल पर सफल होंगे। भूख हड़ताल में शिक्षक अर्चना कुमारी सिन्हा, संगीता कुमारी, माधुरी कुमारी, लता सिन्हा, पूनम कुमारी, उमाशकर, अविनाश कुमार, परशुराम सिंह, संजीव कुमार, दिवाकर कुमार, संजीव कुमार, अरविन्द कुमार, रमेश चन्द्र विद्यार्थी, जगदीश चौधरी, सतीश व अनिल कुमार उपस्थित थे। राज्य कार्यकारिणी सदस्य उमाशकर ने कहा कि निलंबन एवं बर्खास्तगी से शिक्षक विचलित नहीं हैं। आखिरी सांस तक शिक्षक संघ सरकार के खिलाफ लड़ते रहेंगे।

डॉ. मनोज कुमार निराला, सदस्य राज्य कार्यकारिणी ने कहा की कोरोना वायरस से बचने के लिए भी जागरुकता अभियान चलाकर शिक्षक धर्म का पालन कर रहे हैं। डॉ. अनुज कुमार, जिला सचिव ने कहा कि सरकार नियोजनवाद से मुक्ति कर राज्य धर्म का पालन करें।

मीडिया प्रभारी अविनाश कुमार ने नगर निगम प्रशासन को धन्यवाद दिया है कि कोरोना वायरस से निपटने के लिए नगर निगम द्वारा सफाई की जा रही है। जिला माध्यमिक शिक्षक संघ ने सभी नागरिकों एवं शिक्षकों से अपील की कि प्रधानमंत्री द्वारा घोषित जनता क‌र्फ्यू में सहयोग करें। 22 मार्च को सभी अपने घर से सुबह 7 बजे से रात 9 बजे तक अपने घर से नहीं निकलेंगे। मंच का संचालन परमाणु कुमार व शम्भु शरण सिंह ने किया।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस