गया । शहर ही नहीं, ग्रामीण क्षेत्र भी पेयजल समस्या से जूझ रहे हैं। जल संकट के कारण लोगों को काफी परेशानी हो रही है। स्वभाविक है, इसके बिना जीवन जीना मुश्किल है। हम बात कर रहे हैं कुरमावा-बरैली गांव की। यहां नाली एवं पानी की समस्या काफी भयावह है। लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। समस्या के समाधान के लिए कई बार ग्रामीण मुखिया के समक्ष गुहार लगा चुके हैं। बावजूद इसके आज तक समस्या मुंह बाए है।

सामाजिक कार्यकर्ता जीशान प्रिंस ने बताया कि गांव की नाली और पानी की समस्या के निदान का आश्वासन जिलाधिकारी और बीडीओ से मिला था। सपनी मोड़ के समीप बहुत जल्द नाले का निर्माण कराया जाएगा। सपनी मोड़ के समीप 150 घरों में करीब 1000 लोग रह रहे हैं। पेयजल के लिए लोग तरस रहे हैं। यहां कोई व्यवस्था नहीं है। ऐसे में वे करें तो क्या करें। मुख्यमंत्री सात निश्चय योजना से हर घर में नल का जल पहुंचाने का आश्वासन बीडीओ द्वारा मिला है।

ग्रामीण मुजफ्फर नसीम, अब्दुल वाजिद, नूरजहां खातुन, शाहजहां खातून, मुन्नी, इमरान खान, अमीर खान ने कहा कि नाली और पानी की समस्या का समाधान मुखिया द्वारा किया जाना है। कार्य की शुरुआत कब होगी इसकी तिथि निर्धारित नहीं की जा रही है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस