संवाद सूत्र, वजीरगंज: तरवां मायापुर निवासी सेवा निवृत आर्मी संतोष कुमार का बड़ा बेटा 19 वर्षीय राज सिंह की मौत संदेहात्मक स्थिति में बीते गुरूवार को चंडीगढ़ ग्रुप ऑफ कॉलेज के छात्रावास में हो गई। वह बीसीए के प्रथम वर्ष का छात्र था और वहीं रहकर पढ़ाई कर रहा था। मौत की सूचना पाकर उसके पिता कॉलेज पहुंचे तो उन्हें बताया गया कि आपके बेटे ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है। 

सभी कानूनी कार्रवाई के बाद रविवार को उसका शव एम्बुलेंस से घर लाया गया। शव घर पहुंचते ही पूरे गांव में कोहराम मच गया, सभी उसके शव को देखने उसके घर दौड़ पड़े व परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल हो गया। उक्त मामले की जानकारी वजीरगंज के पूर्व विधायक प्रत्याशी कांग्रेस नेता डॉ. शशि शेखर व लोजपा नेता चितरंजन उर्फ चिंटु भईया को हुई, वे मृतक के परिजनों सांत्वना देने पहुंच गये। 

इस दरम्यान मृतक के पिता ने बताया कि राज (मृतक) ने पहले कई बार फोन कर छात्रावास से बाहर कमरा लेकर पढ़ने की बात कहता था, लेकिन मैंने सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए उसे हॉस्टल में रहने को कहा। वह हमेशा वहां मिलने वाले खाने की शिकायत करता था। 

उसने इसकी शिकायत कॉलेज प्रबंधन से की थी, जिसके बाद वार्डेन नवीन कुमार पर कार्रवाई हुई, जिससे वह तिलमिला गया और उसके रूम पार्टनर से मिलकर साजिश के तहत उसकी हत्या कर दी। शव लाने के पहले मैंने काफी मुश्किल से वार्डेन को नामजद करते हुए वहां के स्थानीय थाना सोहाना में मामला दर्ज कराया तथा पोस्टमार्टम के बाद उसके शव को घर लाया। अपराधी पुलिस की पकड़ से बाहर है। 

सांत्वना देने पहुंचे द्वय नेताओं ने कहा कि उक्त मामले में यहां से लेकर दिल्ली तक हर संभव मदद देने का आश्वासन देते हुए मृतक के प्रति श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए शव के दाह संस्कार में भाग लिया।

Edited By: Prashant Kumar Pandey