संवाद सहयोगी, टिकारी : महंगाई के विरोध में महागठबंधन द्वारा आहूत भारत बंद का अनुमंडल क्षेत्र में सोमवार को मिलाजुला असर देखा गया। सुबह से दोपहर तक व्यावसायिक प्रतिष्ठान बंद रहे और वाहनों का परिचालन ठप रहा। हर जगह बंद समर्थक ही दिख रहे थे। दोपहर बाद बंद समर्थकों का बेल्हड़िया मोड़ पर एक सभा हुई। इसमें केंद्र सरकार की नीति को कोसा गया। बंद को सफल बनाने में कांग्रेसी नेता बाल्मीकि प्रसाद, राजद नेता डॉ. मुंद्रिका नायक, राजद प्रखंड अध्यक्ष सुरेश यादव, हम प्रखंड अध्यक्ष रिंकू ठाकुर, भाकपा माले के रोहन यादव सहित अन्य जुटे रहे। शाम में बंद के सफल व असफल को लेकर राजनीति भी होने लगी। भाजपा ने बंद को असफल करार दिया।

बाराचट्टी संवाद सूत्र के अनुसार, भदेया, सोभ, गजरागढ व ब्लॉक मोड़ पर महागठबंधन के नेता व कार्यकर्ता जमा होकर जीटी रोड को जाम करते हुए दुकानों को बंद कराया। बंद को सफल बनाने में काग्रेस प्रखंड अध्यक्ष रेवती रमन, राजद प्रखंड अध्यक्ष केडी यादव, माले प्रखंड सचिव सिरचंद दास, हम पार्टी के अध्यक्ष राजकुमार यादव सहित अन्य नेता व कार्यकर्ता जुटे रहे।

इमामगंज संवाद सूत्र के अनुसार, दुकानें बंद रहीं और सड़कों पर वाहनों का परिचालन पूर्णतया ठप रहा। वहीं, पुलिस ने बाजार में जुलूस निकाल रहे दो दर्जन से अधिक नेता व कार्यकर्ता को हिरासत में लेकर दो घंटे थाना में बैठाए रखा। बंद को सफल बनाने में प्रहलाद प्रसाद, दिनेश प्रसाद, अविनाश सिंह, पंकज पासवान सहित अन्य जुटे थे।

कोच संवाद सूत्र के अनुसार, बंद का प्रखंड क्षेत्र में भी असर दिखा। महागठबंधन के कार्यकर्ताओं ने जुलूस निकालकर केंद्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। बंद को सफल बनाने में राजद प्रखंड अध्यक्ष दिलीप कुमार पासवान युवाध्यक्ष सुजीत यादव, किसान प्रकोष्ठ के अध्यक्ष राम प्रवेश यादव, हम के अध्यक्ष मंटू पासवान सहित अन्य लगे रहे।

Posted By: Jagran