संवाद सहयोगी, टिकारी : पंचानपुर स्थित दक्षिण बिहार केंद्रीय विश्वविद्यालय के विधि संकाय और प्रशासन के बीच उत्पन्न विवाद गहराता जा रहा है। सोमवार को विधि के छात्र प्रशासनिक भवन तो कला संकाय के छात्र सोशल साइंस बिल्डिंग में धरने पर बैठ गए। विवि प्रशासन के लाख कोशिश के बावजूद विधि के छात्र चीफ प्रॉक्टर पर कार्रवाई की मांग के समर्थन में देर शाम तक धरना पर बैठे रहे। वहीं, कला संकाय के छात्रों का एक प्रतिनिधिमंडल कुलपति से मिलकर मारपीट करने वाले विधि संकाय के दोषी छात्रों पर करवाई की माग की।

मालूम हो कि शनिवार को राजनीति विज्ञान के पीजी के छात्रों एवं विधि संकाय के छात्रों के बीच मामूली बात को लेकर तूतू- मैंमैं हो गई। स्थिति मारपीट तक पहुंच गई थी। इसके बाद चीफ प्रॉक्टर कौशल किशोर ने विधि संकाय के छात्रों को फटकार लगाते हुए अनुशासन में रहने और विवि की गरिमा बनाए रखने की बात कही थी।

प्रॉक्टर की यह बात विधि के छात्रों को नागवार गुजरी और मामला इतना तूल पकड़ा लिया कि विधि के छात्र गोलबंद होकर चीफ प्रॉक्टर पर अभद्र भाषा का प्रयोग करने का आरोप लगाकर धरना प्रदर्शन शुरू कर दिए। सोमवार सुबह भी छात्रों ने वर्ग संचालन का बहिष्कार कर प्रशासनिक भवन के समक्ष धरने पर बैठ गए। उसके बाद राजनीति विज्ञान के छात्रों के समर्थन में कला संकाय के सभी विभाग के छात्रों ने भी कक्षा बहिष्कार कर सोशल साइंस भवन में धरना पर बैठ गए। चीफ प्रॉक्टर किशोर ने कला संकाय के छात्रों को समझा बुझाकर धरना खत्म कराया। छात्रों के एक प्रतिनिधिमंडल को विवि कुलपति से वार्ता करने के लिए बुलाया। साथ ही विवि कुलपति ने विधि संकाय के भी छात्रों के एक प्रतिनिधिमंडल को वार्ता के लिए बुलाया। लेकिन विधि के छात्र कुलपति से मिलने से इन्कार करते हुए उन्हें ही धरना स्थल पर आकर वार्ता करने की माग पर अड़े रहे। मामले को देखते हुए विवि प्रशासन ने स्वतंत्र कमेटी गठित कर जाच का निर्देश दिया। प्रशासन द्वारा उठाए गए कदम के बाद भी विधि संकाय के छात्र नहीं माने और समाचार संप्रेषण तक धरने पर बैठे थे।

---------

अनुशासनहीनता कतई बर्दाश्त

नहीं : विवि कुलपति

विवि कुलपति डॉ. हरीश चन्द्र राठौड़ ने बताया कि मामले की अभी तक जो आरोप-प्रत्यारोप सामने आया है, सभी पहलुओं की बिंदुबार जांच कराई जा रही है। विवि में अनुशासनहीनता कतई बर्दाश्त नहीं की जाएगी। जाच रिपोर्ट के आधार पर दोषियों पर अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाएगी।

Posted By: Jagran