संवाद सहयोगी, टिकारी : दक्षिण बिहार केंद्रीय विश्वविद्यालय के विधि की छात्रा सान्या दरखशां किश्वर को सार्क देशों की बेस्ट लॉ स्टूडेंट अवार्ड से सम्मानित किया गया है। साथ ही सान्या को यूएसए के पेन स्टेट लॉ यूनिवर्सिटी में लॉ मास्टर प्रोग्राम के लिए भी चयनित कर 50 हजार डॉलर की छात्रवृति प्राप्त करने का अवसर मिला है।

विदित हो कि गत फरवरी में आयोजित अंतरराष्ट्रीय मूट कोर्ट प्रतियोगिता व लॉ स्टूडेंट कांफ्रेंस में सार्क देशों के अलग-अलग संस्थानों के विधि के छात्रों ने भाग लिया था। इसमें सोसाइटी ऑफ इंडियन लॉ फर्म एवं मेनन इंस्टीच्यूट ऑफ लीगल एडवोकेसी ट्रेनिंग के संयुक्त तत्वाधान में तृतीय प्रो. एनआर माधव मेनन सार्क लॉ प्रतियोगिता का आयोजन किया गया था। संस्था द्वारा आयोजित इस प्रतियोगिता में सीयूएसबी की पहली टीम में शामिल गया की रहने वाले सान्या भाग ली और सफलता प्राप्त करते हुए बेस्ट लॉ स्टूडेंट 2018 का अवार्ड जीती। सान्या 10 वीं तक की शिक्षा गया के क्रेन स्कूल से प्राप्त की। न्यू करीमगंज की रहने वाली सान्या की मां किश्वर जहा बेगम गौतम बुद्ध महिला कॉलेज में अंग्रेजी विभाग की विभागाध्यक्ष हैं। फिलहाल, सान्या पेन स्टेट लॉ यूनिवर्सिटी में नामाकन कराकर एक वर्षीय लॉ मास्टर प्रोग्राम की पढ़ाई कर रही है। सान्या की अनुपस्थिति में गत एक सितंबर को नई दिल्ली में अवार्ड वितरण समारोह में भारत के उप राष्ट्रपति वेंकैया नायडू के हाथों उसकी मां ने पुरस्कार ग्रहण की। सीयूएसबी के स्कूल ऑफ लॉ के डीन डॉ. संजय प्रकाश ने बताया कि सान्या विश्वविद्यालय की बीएससी एलएलबी पाठ्यक्रम की छात्रा रही है। उसकी सफलता विवि के लिए सम्मान की बात है।

Posted By: Jagran