मोतिहारी । विभिन्न मामलों में उच्च न्यायालय द्वारा शिक्षकों के पक्ष में निर्णय दिए जाने के बाद भी सरकार द्वारा उदासीनता बरते जाने के खिलाफ शनिवार को परिवर्तनकारी प्रारंभिक शिक्षक संघ ने आक्रोश मार्च निकाला। इस दौरान सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की गई। मोतिहारी बीआरसी से निकाले गए मार्च में शामिल शिक्षक समाहरणालय के समक्ष पहुंचे और वहां एक दिवसीय धरना दिया। इस अवसर पर जिलाध्यक्ष अशोक कुमार चौधरी ने कहा कि परिवर्तनकारी प्रारंभिक शिक्षक संघ द्वारा शिक्षकों के हित में दाखिल किए गए वाद में उच्च न्यायालय द्वारा हमारे पक्ष में फैसला दिए जाने के बाद भी बिहार सरकार उस पर अमल नहीं कर रही है। अगर सरकार इस दिशा में तुरंत कदम नहीं उठाती है तो हम अपने आंदोलन को और विस्तार देते हुए इसे धारदार बनाएंगे। मौके पर अनिल कुमार सिंह, रामपुकार प्रसाद, अमीरक राम, अमित कुमार, जावेद आलम, अमित श्रीवास्तव, रेणु कुमारी, रीता कुमारी, सूर्यकांत पाठक, जयप्रकाश पांडेय, मो. इस्लाम, विकास कुमार, शाहिद रजा, रामाकांत यादव, मो. ताजिम कौसर, बिगू सहनी, गेनालाल राय, आनंद जायसवाल आदि उपस्थित थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस