मोतिहारी । महात्मा गांधी समेकित कृषि अनुसंधान संस्थान, पीपरा कोठी में सांसद सह चेयरमैन रेलवे स्टैंडिग कमेटी सह पूर्व केंद्रीय कृषि मंत्री राधा मोहन सिंह वैज्ञानिकों के साथ बैठक की। श्री सिंह ने कहा कि यह संस्थान अपने देश का अपने तरीके का पहला अनुसंधान संस्थान है, जिसमें समेकित कृषि प्रणाली जो छोटे, माध्यम एवं बड़े किसानों के लिए एक नई प्रयोगशाला के रूप में कार्य कर रहा है। इससे नई तकनीक निकालकर हमारे किसान भाइयों की खेत तक पहुंचाने का कार्य किया जा रहा है। कहा कि महात्मा गांधी की भव्य प्रतिमा एवं राष्ट्रीय स्मारक ध्वज यहां स्थापित की गई है। इसी कैम्पस में स्व. कैलाशपति मिश्र सभागार एवं स्व. कर्पूरी ठाकुर छात्रावास की स्थापना की गई है, जिसमें एक हजार किसानों के बैठने व रहने की व्यवस्था है। बिहार के इन दोनों सपूतों के स्मारक भी बनकर तैयार हैं, जिसका शीघ्र ही अनावरण होगा। इस संस्थान में वैज्ञानिकों की पदस्थापना पिछले 4 वर्ष पूर्व हो चुकी है जो देश के विभिन्न कोने से पदस्थापित हुए हैं। इस अवसर पर संस्थान के नवनियुक्त ओएसडी अंजनी कुमार सिंह, जिलाधिकारी शीर्षत कपिल अशोक ने वैज्ञानिकों को संबोधित किया। मौके पर एसडीओ सदर प्रियरंजन राजू, केविक प्रमुख डॉ. अरविद कुमार सिंह, बीडीओ सुनीता कुमारी, सीओ भास्कर कुमार मंडल, डीएओ, आईसीएआर व केवीके के वैज्ञानिक सहित कई लोग मौजूद थे।

Posted By: Jagran

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस