मोतिहारी। पेट्रोल-डीजल की कीमतों में बेतहासा वृद्धि को लेकर कांग्रेस सहित महागठबंधन के आहवान पर सोमवार को भारत बंद का असर अनुमंडल क्षेत्र के सभी प्रखंडों में शांतिपूर्ण रहा। महागठबंधन के नेता सुबह से ही सड़क पर उतर गए। एकजुट होकर शहर एवं बाजारों में घूम-घूमकर दुकानें बंद कराने लगे। मुख्य पथ स्थित पोस्ट आफिस चौराहा पर कांग्रेस के पूर्व मंत्री सगीर अहमद, पूर्व विधायक रामपृत राय, पूर्व प्रत्याशी रामबाबू प्रसाद यादव, प्रखंड अध्यक्ष ब्रजभूषण पांडेय, आदापुर के पूर्व प्रमुख मो. असलम, अब्दूल हफीज अंसारी, अनिल यादव, सौरंजन कुमार, अमित यादव, जन अधिकार लो. के कृष्णा प्रसाद, जहीर अहमद, मुस्तजाब आलम, मुमताज खान, अमर अंसारी, अनिला तिवारी, नवसाद अंसारी, के नेतृत्व में बंदी को सफल बनाने के लिए कार्यकर्ताओं ने विभिन्न चौक-चौराहों पर प्रदर्शन कर सरकार विरोधी नारे लगाए। उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए पूर्व मंत्री श्री अहमद और पूर्व विधायक श्री राय ने कहा कि सरकार सभी मोर्चे पर विफल है। विकास के नाम पर देश की जनता को भाजपा की सरकार ठगने का काम किया है। महिलाएं सुरक्षित नहीं है। शिक्षा का स्तर गिरा है। महंगाई चरम पर है। किसानों को खाद, बीज समय पर नहीं मिल रहा है। बेरोजगारी बढ़ी है। देश की आंतरिक और बाह्य सुरक्षा की स्थिति भी गंभीर है। फिर भी सरकार कहती है कि देश प्रगति की राह पर चल रहा है। रक्सौल शहर के विकास की चर्चा करते हुए कहा कि जर्जर सड़क, ऊपरी पुल का अभाव, जाम की समस्या, कीचड़ और धूलकण की समस्या से लोग बेचैन है। और भाजपा के नेता स्र्मार्ट सिटी बनाने की दावा कर रहे है। रक्सौल एयरपोर्ट और ओवरब्रिज अबतक निर्माण नहीं हुआ। इनलोगों ने खुली चुनौती देते हुए कहा कि पूरे देश में जनहित में कोई एक कार्य को बताए। इस दौरान मुख्य पथ पर वाहनों की लंबी कतार लगी रही। जिसे देशी-विदेशी पर्यटक बेचैन दिखें। बंद को लेकर अधिकांश निजी स्कूल बंद रही। जाम के कारण जन जीवन अस्त-व्यस्त हो गया। कौड़ीहार चौक पर राजद के पूर्व प्रत्याशी सुरेश यादव, रशीद अहमद, अखिल भारतीय युवा कांग्रेस के प्रदेश महासचिव प्रो. अखिलेश दयाल के नेतृत्व में भाकपा के श्यामबिहारी तिवारी, रामाकांत आजाद सहित सैकड़ों कार्यकर्ता टायर जलाकर प्रदर्शन किया। सरकार विरोधी नारे लगाए। इसके बाद दुकानों को बंद कराते हुए कोईरिया टोला नहर चौक पहुंच नुक्कड़ सभा किया। वहीं सुरक्षा व्यवस्था को लेकर पुलिस गश्त लगाती रही। आदापुर : महागठबंधन द्वारा आहूत भारत बंद का असर प्रखंड क्षेत्र के बाजारों में दिखा। राजद नेता रामएकबाल राय, वीरेन्द्र यादव व कांग्रेस के अनिल गुप्ता के नेतृत्व में कार्यकर्ता बाजार की दुकानों को बंद कराया। छौड़ादानो : महागठबंधन द्वारा भारत बंद का असर छौड़ादानो में भी रहा। छौड़ादानो-मोतिहारी मुख्य मार्ग पर आवागमन ठप रहा। वहीं बाजार की दुकानें भी बंद रही। जनता चौक पर प्रखंड प्रमुख रामएकबाल प्रसाद यादव, विधायक प्रतिनिधि हारूण रशीद आदि के नेतृत्व में कार्यकर्ताओं ने शांतिपूर्ण ढंग से बाजार की दुकानों को बंद कराया। सरकारी, गैर-सरकारी वाहनों का परिचालन ठप रहा। बंद का असर ग्रामीण क्षेत्रों में दिखा। श्यामपुर-लखौरा मार्ग पर फरियाद अहमद, अखलाख अहमद, महेश कुमार आदि ने नरकटिया बाजार, सेमरहिया चौक पर घंटों उक्त पथ को जाम रखा। वहीं सुरक्षा व्यवस्था को लेकर स्थानीय पुलिस गश्त लगाती रही। रामगढ़वा : भारत बंद के दौरान मुख्य पथ पर बेला-मुड़ला चौक, हनुमान मंदिर आदि जगहों पर महागठबंधन कार्यकर्ताओं ने जाम कर सरकार विरोधी नारे लगाए। इस दौरान दिल्ली-काठमांडू को जोड़नेवाली मुख्य सड़क पथ पर वाहनों की लंबी कतार लग गई।

Posted By: Jagran