मोतिहारी। सिकरहना, अनुमंडल शांति समिति द्वारा पुन: दूसरी बार यह पारित कर दिया गया कि गणतंत्र दिवस एवं स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर गांधी चौक पर पदेन एसडीओ द्वारा ध्वजारोहन किया जाएगा। पिछले 27 दिसंबर को अनुमंडल शांति समिति द्वारा 15 अगस्त को ध्वजारोहण को लेकर उत्पन्न विवाद को देखते हुए शांति समिति के सदस्यों द्वारा प्रस्ताव लाया गया और उस प्रस्ताव को ध्वनि मत से पारित कर दिया गया था। इस मामले को लेकर शांति समिति के सदस्य नेक महमद ने जिलाधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक को दिए आवेदन में कहा था कि 38 वर्षो से जनप्रतिनिधि एवं सामाजिक कार्यकर्ता होने के कारण वे ध्वजारोहन करते आ रहे हैं। मेरी अनुपस्थिति में शांति समिति के सदस्यों द्वारा निर्णय लेकर आम जनता की भावना को अनदेखी की गई है। आवेदन को लेकर पुन: बैठक आयोजित कर सदन के सदस्यों की राय ली गई। शांति व विधि व्यवस्था को लेकर अधिकांश सदस्यों ने पूर्व के प्रस्ताव को पारित करते हुए नेक मोहमद को अपने निर्णय को वापस लेने की मांग की। श्री मोहमद ने अपने निर्णय को लेकर प्रशासन से दो दिनों की मोहलत की मांग की है। बैठक में सरस्वती पूजा को लेकर ढाका, फुलवरिया, गवन्द्री, सहित अन्य संवेदनशील जगहों पर विधि व्यवस्था कायम करने के लिए सदस्यों के द्वारा राय ली गई। एसडीओ ज्ञान प्रकाश ने कहा कि सरस्वती पूजा को शांतिपूर्वक संपन्न कराने को लेकर पुलिस व पदाधिकारी को प्रतिनियुक्त किया जाएगा। मौके पर नूर आलम खान, पप्पू चौधरी, मुन्ना कुमार शाही, मंगल कुशवाहा, वशी अख्तर, रहमतुल्लाह, सुनील ¨सह, तबरेज आलम, नेहाल अख्तर, संजय ¨सह पटेल, मतीन अख्तर, अनिसुर्रहमान, सुरेन्द्र प्रसाद, नूर मोहम्मद, अफताब आलम, शम्स तबरेज, सुनील कुमार सिन्हा, अली अख्तर के अलावा डीएसपी आलोक कुमार ¨सह, पीजीआरओ शिवशंकर पासवान, थानाध्यक्ष अशोक कुमार आजाद सहित अन्य सदस्य शामिल रहे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप