मोतिहारी। आदापुर प्रखंड क्षेत्र के राजकीय नवसृजित प्राथमिक विद्यालय सोनारटोला चैनपुर में भारतीय स्वतंत्रता संग्राम के आध्यात्मिक पिता स्वामी विवेकानंद के महासमाधि दिवस पर गुरुवार को बच्चों ने योगाभ्यास किया। योग कार्यक्रम का प्रारंभ राष्ट्रगान के बाद स्वामी विवेकानंद की तस्वीर पर माल्यार्पण और पुष्पांजलि अर्पित कर की गई। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए शिक्षक शिव शंकर गिरि ने कहा कि स्वामी विवेकानंद उच्च कोटी के समाज सुधारक थे। उन्होंने एक ऐसे समाज की कल्पना की थी जिसमें धर्म या जाति के आधार पर मनुष्यों में कोई भेद न रहें। उन्होंने वेदांत के सिद्धांतों को भी इसी रूप में रखा। इस अवसर पर बच्चों को कपालभांति, अनुलोम-विलोम, मंडुकासन, सर्पासन आदि का अभ्यास कराया गया। शिक्षक उमेशचंद्र सहनी, शिक्षा सेवक बीरबहादुर बैठा ने योग प्रशिक्षक का कार्य किया। मौके पर शिक्षक कृष्णमोहन ठाकुर, विनोद यादव, जाबीर हुसैन, रिकी कुमारी, दिनेश कुमार, रमेश कुमार रसोईया उदन प्रसाद, नैना देवी, सुनैना देवी, सविता देवी, फूलमति देवी, सुनीता देवी, कुंदन कुमार, अरविद कुमार, राजन कुमार, अनमोल कुमार, विकेश कुमार, रुपेश कुमार, पीयूष कुमार, बजरंगी कुमार सहित दर्जनों लोग व छात्र-छात्राएं मौजूद थी।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप