मोतिहारी। पुलिस की तमाम कोशिशों के बाद भी महिलाओं पर हिसा का क्रम नहीं रुक रहा है। जिले के दो अलग-अलग थानाक्षेत्रों में दो महिलाओं की हत्या कर दी गई। घटना की सूचना मिलने के साथ हरकत में आई पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है और हत्यारों की तलाश में जुट गई है। पहाड़पुर में घर में घुसकर गर्भवती को चाकू गोद मौत के घाट उतार दिया गया । वहीं पीपरा में महिला की हत्या कर उसकी लाश को साक्ष्य मिटाने की नीयत से दूसरे स्थान पर फेंक दिया गया। पुलिस को मौके से कुछ अहम कागजात मिले हैं, जिसके आधार पर हत्यारों की खोज की जा रही है। उधर, पहाड़पुर की घटना में तीन लोगों को नामजद किया गया है। रात में घर में घुस गए गांव के लोग ताबड़तोड़ चाकू व रॉड से वार कर दिया घटना को अंजाम

पहाडपुर, संस. : थानाक्षेत्र के सटहां गांव में मंगलवार की रात एक महिला की हत्या गला रेत व चाकू मार कर दी गई। घटना के बाद परिवार में कोहराम मचा है। वहीं हत्यारों की पहचान ग्रामीणों के रूप में की जाने के बाद गांव में तनाव है।

शालू देवी अपनी मां व बहन के साथ घर में सो रही थी। इसी दौरान गांव के ही त। चाकू व रॉड से हमला करने लगे। इस दौरान उसका गला भी रेता गया। बता दें कि शालू की शादी डेढ़ साल पहले मलाही थाना के सोनवल गांव निवासी निवासी पप्पू पटेल से हुई थी। इस बीच वह अपने मायके आई थी। मौका पाकर ग्रामीण मुकेश महतो, चंदन महतो व पवन महतो ने गला रेतने के बाद चाकू व रॉड से हमला कर महिला को मौत के घाट उतार दिया। मौके पर पहुंचे थानाध्यक्ष अनुज कुमार सिंह व दारोगा लालदेव प्रसाद सिंह ने लाश को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेजा है। शालू की मां रीता देवी ने तीनों ग्रामीणों को नामजद अभियुक्त बनाया है।

पीपरा में एनएच-28 से मिली हत्या बाद फेंकी गई युवती की लाश पीपरा, संस. : राष्ट्रीय उच्च पथ संख्या-28 के किनारे थानाक्षेत्र के महुआवा गांव समीप एक झाड़ी से स्थानीय पुलिस ने ग्रामीणों की सूचना पर एक युवती की लाश को बरामद किया है। युवती की पहचान नहीं हो सकी है। थानाध्यक्ष संतोष कुमार शर्मा ने बताया कि युवती की लाश का पोस्टमार्टम कराया जा रहा है। घटनास्थल से नेपाली में लिखे कुछ पुराने कागज मिले हैं। उनकी जानकारी ली जा रही है। युवती के गले पर काले रंग का निशान पाया गया है। आशंका है कि उसकी हत्या गला दबाकर की गई है। शव लाल रंग के चादर में लिपटा पड़ा था। घटना के बाबत चकिया के पुलिस उपाधीक्षक शैलेंद्र कुमार ने बताया कि महिला की हत्या कहीं और की गई है। साक्ष्य मिटाने की नीयत से शव यहां फेंका गया है।

शराबी पति की प्रताड़ना से तंग महिला ने दी जान, खुद को किया आग के हवाले पताही, संस. : शराबी पति की प्रताड़ना से तंग तीन बच्चों की एक मां ने अपनी जान दे दी। उसने खुद को आग के हवाले कर दिया। हालांकि, आनन-फानन में उसे इलाज के लिए मोतिहारी लाया गया। लेकिन, यहां इलाज के दौरान उसने दम तोड़ दिया। ससुराल के लोगों ने आनन-फानन में साक्ष्य मिटाने की नीयत से बबीता की लाश को जला दिया। घटना की सूचना मिलने के साथ मौके पर पहुंचे थानाध्यक्ष विकास तिवारी ने आरोपित पति धर्मेंद्र साह को गिरफ्तार कर लिया है। उससे पूछताछ की जा रही है।

इस सिलसिले में मुजफ्फरपुर जिला के औराई थानाक्षेत्र के कोकिलवाड़ा निवासी महिला की मां अरुण साह की पत्नी प्रमिला देवी ने स्थानीय थाने में आवेदन देकर आरोप लगाया है कि शादी के कुछ दिन बाद से ही ससुराल के लोगों द्वारा दहेज की मांग की जा रही थी। इसको लेकर कई बार पंचायत भी हुई थी। इस बीच घटना की जानकारी बबीता के 9 वर्षीय पुत्र रोशन कुमार ने घटना की जानकारी फोन कर अपने ननिहाल में दी। सूचना पर उसकी मां प्रमिला देवी, अपने घर से अन्य लोगों के साथ पदुमकेर गांव पहुंची तो घर पर कोई नहीं मिला। मोबाइल भी स्विच ऑफ मिला। किसी तरह मोतिहारी अस्पताल पहुंची तो पता चला कि महिला की स्थिति गंभीर थी। उसे रेफर किया गया। बेहतर अस्पताल में ले जाने के दौरान ही महिला ने रास्ते में दम तोड़ दिया। मामले में बबीता के आवेदन पर पति धर्मेंद्र साह, सास पार्वती देवी, जेठानी ललिता देवी, भैसुर अर्जुन साह समेत सात लोगों पर मामला दर्ज कर किया गया है। पुलिस ने पति धर्मेंद्र साह को गिरफ्तार कर लिया है। पूछताछ चल रही है। अन्य की गिरफ्तारी के लिए पुलिस छापेमारी में जुटी है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप