मोतिहारी। आदापुर, आम जनता के बीच खुशहाली का लाभ पहुंचाने के लिए सरकार आपके द्वार पहुंच विकास की अनेक योजनाएं लेकर खड़ी है। लेकिन, जनप्रतिनिधियों व अधिकारियों के उदासीन रवैये के कारण विकास को गति नहीं मिल पा रही है। यही कारण है कि प्रखंड क्षेत्र में मुख्यमंत्री सात निश्चय योजना अंतर्गत अंतर्गत कराये जा रहे नल जल व गली नाली का कार्य समय बीत जाने के बाद भी पूरा नहीं हो सका है। जबकि सरकार गांव व पंचायत के एक-एक व्यक्ति के विकास के लिए पैसा पानी की तरह बहा रही है। इस योजना को पूरा करने के लिए दस से ग्यारह माह पहले वार्ड व संवेदक ने चेक के माध्यम से राशि प्राप्त कर लिया है। लेकिन अनेक पंचायतों में पानी पहुंचाने की बात तो दूर है जलमीनार तक खड़ा नहीं हो सका है। वहीं आम लोगों तक पानी पहुंचने के बाद भी आज लोग प्यासे है। इसका मुख्य कारण संवेदक, वार्ड सदस्यों व मुखिया के बीच आपसी सामंजस्य का नहीं होना। तो कहीं कहीं संवेदक के नये होने के कारण अनुभव के अभाव में घटिया कार्य का होना बताया जा रहा है । जिसकी पड़ताल करने दैनिक जागरण टीम प्रखंड के श्यामपुर पंचायत पहुंची। जहां अधिकारी व जनप्रतिनिधियों का दिनभर आना जाना लगा रहता है। इस पंचायत में गली नली की बात छोड़ दी जाय तो ग्यारह माह बीत जाने के बाद एक भी जल मीनार से शुद्ध जल किसी के घर नहीं पहुंच पाया है। जो आम लोगो में चर्चा का विषय बना हुआ है। 15 वार्डो के इस पंचायत में 1, 2, 3, 7, 8, 9, 12, 13 व 15 में जल नल का कार्य तीन चरणों में शुरू हुआ था। प्रथम चरण में 3, 9,12 व 13 द्वितीय चरण में 2, 7 व 15 तथा तृतीय चरण में 3, 8 व 13 है।

----------

कहते हैं लोग

विनोद कुमार, दशई पासवान, म. याकूव, चन्देश्वर राम व मुन्ना प्रसाद ने मिली-जुली प्रतिक्रिया दी। इन लोगों का कहना था कि निर्माण कार्य में एक वर्ष लग गए हैं। फिर भी लगता नहीं है कि सभी वार्डो में 26 जनवरी तक पानी घर-घर तक पहुंच पाएगा।

------------

कहती हैं मुखिया

मुखिया अफशाना खातून ने बताया कि सभी जगह कार्य पूरा हो चुका है। बिजली का कनेक्शन एक सप्ताह में पूरा हो जायेगा। गणतंत्र दिवस तक जल आपूर्ति शुरू हो जाएगी।

------------

कहते हैंअधिकारी

बीडीओ आशीष कुमार मिश्र ने बताया कि संवेदक के कारण कार्य पूरा होने में देरी हुई है। निर्धारित तिथि तक वार्डों में पानी सप्लाई शुरू हो जाएगा। इस संबंध में आप अपने विचार व्हाट़्सएप नंबर 9934041956 पर दे सकते हैं।

Posted By: Jagran