मोतिहारी। रक्सौल, मकर संक्रांति यानि खिचड़ी आज मंगलवार को 15 जनवरी को है। तिलकुट से शहर के चौक-चौराहे सज गए हैं। दुकानों पर लोगों के पॉकेट के अनुसार तिलकुट सजा है। खिचड़ी को लेकर दूर-दराज के साथ साथ पड़ोसी देश नेपाल के विभिन्न कोनों से पुरुष व महिला खरीदारी के लिए पहुंच रहे है। वर्षों से तिलकूट से जुड़े दुकानदार रामपुकार दास, शशिभूषण दास सहित अन्य लोगों का कहना है कि गया से तिलकूट निर्माण के लिए मशहूर कारीगरों को बुलाया गया है। जो विभिन्न प्रकार के तिलकूट को दिन-रात मेहनत कर बना रहे है। दुकानदारो ने बताया कि महंगाई के कारण पिछले वर्ष की तुलना में बिक्री पर असर पड़ा है। इसलिए विभिन्न प्रकार के तिलकूट काउंटर पर उपलब्ध है। उन्होंने बताया कि गूड तिलकूट 240, चीनी तिलकूट 320, खोआ तिलकूट 4 00, रेवड़ी 140 रूपए, मुरब्बा 80 रूपए सहित अन्य प्रकार के तिलकूट काउंटरों पर उपलब्ध है। तीन दिन पूर्व से ही लोग तिलकूट की खरीदारी करने पहुंच रहे है। लोग महंगाई के कारण एक- दो आइटम ही खरीद रहे है। इसको लेकर बाजार में भीड़ उमर रही है। साथ ही चूड़ा व मीठा की दुकानों पर भी भीड़ देखने को मिल रही है।

Posted By: Jagran