पूर्वी चंपारण [जेएनएन]। बिहार के मोतिहारी शहर में अपराधी बेखौफ दिख रहे हैं। बीती रात एक युवक की गोली मारकर हत्‍या की सनसनी अभी ताजी ही थी कि‍ रविवार को भी दिन-दहाड़े बाइक सवार अपराधियों ने एक व्यवसायी को गोली मार दी। घायल की स्थिति नाजुक बताई जा रही है।

टेंट व्‍यवसायी को बनाया निशाना, हालत गंभीर

पूर्वी चंपारण जिला मुख्‍यालय मोतिहारी के छतौनी थाना क्षेत्र अंतर्गत बरियारपुर दुर्गा चौक के पास रविवार को दिन-दहाड़े बाइक सवार बदमाशों ने प्रसिद्ध टेंट व्यवसायी उपेंद्र साह (35) को गोली मार दी। गोली क्लोज रेंज से मारी गई। व्यवसायी को चिंताजनक स्थिति में शहर के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पुलिस अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी कर रही है।

शहर के बरियारपुर निवासी टेंट व्यवसायी उपेंद्र का व्यवसाय बरियारपुर दुर्गा चौक पर है। बगल में उनकी पत्नी व बेटी मिलकर ब्यूटी पार्लर चलाती हैं। रविवार को उपेंद्र अपने घर पर थे। इसी दौरान उन्हें किसी ने फोन कर प्रतिष्ठान पर आने के लिए कहा। व्यवसायी जैसे ही अपनी दुकान पर पहुंचे, पहले से घात लगाकर बैठे दो अपराधियों ने उन्हें गोली मार दी और बाइक से भाग गए।

घटना के बाद इलाके में अफरा-तफरी मच गई। आनन-फानन में व्यवसायी को अस्पताल लाया गया। जहां उनकी चिकित्सा चल रही है।

भीड़ ने पुलिस को कोसा, पुलिस का रटा-रटाया जवाब

घटना के बाद से लोगों पुलिस की व्यवस्था को कोस रहे हैं। लोगों का कहना है कि शनिवार की रात जमीन कारोबारी संजय कुमार सिंह की गोली मारकर हत्‍या मामले में पुलिस के हाथ अभी खाली ही हैं कि यह दूसरी घटना हो गई। पुलिस का सुरक्षा चक्र ठीक रहता तो लगातार घटनाएं नहीं होतीं।

उधर, घटना की मोतिहारी के डीएसपी मुरली मनोहर मांझी ने पुलिस का रटा-रटाया जवाब दिया कि व्यवसायी की चिकित्सा चल रही है। प्रारंभिक तौर पर मिली जानकारी के आधार पर अपराधियों की खोज की जा रही है। जल्द हीं उन्‍हें गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

एक दिन पहले हुई हत्‍या का अभी तक नहीं मिला सुराग

विदित हो कि इसके पहले शहर के कुंवारी देवी चौक पर शनिवार की देर शाम दो बाइक पर सवार पांच अपराधियों ने गोली मार एक युवक की हत्या कर दी थी। मृतक मुफस्सिल थानाक्षेत्र की रामगढ़वा पंचायत के रामगढ़वा के निवासी नारद सिंह का पुत्र संजय कुमार था। वह कुंवारी देवी चौक स्थित अपने आवास पर बैठा था। इसी दौरान उसकी हत्‍या कर दी गई। इस मामले में पुलिस के हाथ अभी तक खाली ही हैं।

भाइयों ने कहा: साजिश के तहत की गई हत्या

सदर अस्पताल में संजय के शव का पोस्टमॉर्टम के दौरान उसके भाई मनोज सिंह ने बताया कि इस हत्या के पीछे बड़ी साजिश की गई है। हत्यारों में शामिल मिट्ठू नामक एक युवक ने  पहले संजय को आवाज लगाई। इससे पहले कि वह कुछ समझ पाता हथियारबंद बदमाशों ने उसे मौत के घाट उतार दिया।

परिजनों ने पुलिस को हत्यारों के बारे में विस्तार से जानकारी दी है। उन्‍होंने आरोप लगाया है कि हाल के दिनों में एक व्यक्ति जेल गया। लेकिन कतिपय कारणों से उसे जमानत मिल गई। उसी ने साजिश के तहत संजय की हत्या अपने साथियों के साथ मिलकर कर दी। पुलिस के सामने हत्यारों का नाम आने के बाद सभी के ठिकानों पर ताबड़तोड़ छापेमारी चल रही है। एसपी उपेंद्र शर्मा ने बताया कि कुछ के नाम सामने आए हैं। उन्‍हें जल्‍दी ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

Posted By: Amit Alok

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप