मोतिहारी । जितना थाना क्षेत्र के सठौरा गांव में 25 अक्टूबर को आनर किलिग के अभियुक्तों के घर शुक्रवार को कुर्की जब्ती की करवाई शुरू होते ही हड़कंप मच गया। फरार अभियुक्त कुर्की जब्ती की कार्रवाई से बचने के लिए विभिन्न थाना क्षेत्रों में आत्मसमर्पण करना शुरू कर दिया। इसमें अरुण सिंह टाउन थाना मोतिहारी, कामेश्वर सिंह, चिरैया थाना, सूरज सिंह डुमरा सीतामढ़ी जिले के डुमरा थाना, धनंजय सिंह भेलाही थाना अर्जुन सिंह सीतामढ़ी के सुप्पी थाना तथा गोल्डन सिंह,सीतामढ़ी के डुमरा थाना में आत्मसमर्पण कर दिया। फरार अभियुक्त रंजन सिंह, शिवनाथ सिंह तथा चंदन सिंह के घर की कुर्की जब्ती की गई। मामले में मृतक की पत्नी पूजा सिंह के आवेदन पर जितना पुलिस ने 12 लोगो को नामजद अभियुक्त तथा 7 अन्य के खिलाफ प्राथमिकी की थी। मामले में अरविन्द सिंह और जितेन्द्र सिंह की गिरफ्तारी जितना पुलिस ने घटना के दूसरे दिन ही कर जेल भेज दिया फिर पुलिस दबाव में मनोरंजन सिंह ने दो नवम्बर को ढाका कोर्ट में आत्म समर्पण कर दिया था। जितना थानाध्यक्ष अनिल कुमार ने कहा कि फरार तीनों अभियुक्त की गिरफ्तारी के लिए लगातार छापेमारी जारी है। डकैती व गबन कांड के आरोपित समेत चार गिरफ्तार

मधुबन पुलिस ने विभिन्न मामले के चार आरोपितों को गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में मोतिहारी भेज दिया है। इसमें डकैती कांड का वांछित खैरवा निवासी वैद्यनाथ सहनी, भगवानपुर गांव निवासी नलजल योजना में 20.94 लाख के गबन के आरोपी देवेंद्र पासवान शामिल हैं। थानाध्यक्ष राजेश कुमार ने बताया कि जितौरा के बारापाकड़ में सड़क जाम के आरोपी विनोद भगत व गोसाईपुर गांव से दो लीटर चुलाई शराब के साथ बाबूलाल राम को भी गिरफ्तार किया गया है।

Edited By: Jagran