बेतिया। नगर परिषद विगत दिनों भारी वर्षो के बाद शहर में हुए जलजमाव को लेकर एक बार फिर गंभीर हो गया है। बुधवार को उपसभापति कयूम अंसारी की निगरानी में नगर के बंसवरिया स्थित बाबा संतावन दास मठ के समीप वर्षों से बंद पड़ा नाला को खोलने की कोशिश शुरू हो गई है। इस संदर्भ में उपसभापति ने बताया कि शहर के उत्तरी भाग का एक बड़ा हिस्सा का जल निकासी इस नाला से होकर जाता है। इस नाला का मुहाना अगर खोल दिया जाए तो इसमें कही संशय नहीं है कि जलजमाव से निजात मिलेगी। इस नाला की उड़ाही करने से नौरंगाबाग, पावर हाउस, मीनाबाजार का कुछ हिस्सा, बड़ा रमना, बसवरिया सहित कई मुहल्लों का समस्या का हल हो जाएगा। उन्होंने वर्षों से बंद पड़े नाला को लेकर अपनी उत्साह दिखाई है। साथ ही इस नाला पर अब तक बरती गई कोताही पर अफसोस भी जताया है। बताया कि इस महत्वपूर्ण नाला पर दशकों से ध्यान नहीं दिया गया। परिणाम स्वरूप आज सफाई में भारी कठिनाई का सामना करना पड़ रहा है।

Posted By: Jagran