दरभंगा । रोटरी क्लब दरभंगा ऑफ विद्यापति की ओर से टीबी रोग के प्रति लोगों को जागरूक करने के लिए मुफ्त टीबी जांच और जागरूकता शिविर का आयोजन संजीवनी सेवा सदन आशापुर में किया गया। कैंप की शुरुआत अवकाश प्राप्त एसीएमओ डॉ. केएन ठाकुर, रोटरी क्लब ऑफ विद्यापति के अध्यक्ष प्रकाश कुमार, सचिव पिनाकी शंकर, संयोजक डॉ. संजीव कुमार ठाकुर, डॉ. मिथिलेश झा ने संयुक्त रूप से किया। डॉ. संजीव कुमार एवं डॉ. मिथिलेश झा व उनकी टीम ने सभी मरीजों का मुफ्त परीक्षण किया और लोगों को टीबी रोग से बचाव को लेकर जागरूक किया। बताया कि टीबी का बैक्टीरिया शरीर के जिस हिस्से में होता है, उसके टिशू को पूरी तरह नष्ट कर देता है और इससे उस अंग का काम प्रभावित होता है। जैसे फेफड़ों में टीबी है तो फेफड़े धीरे-धीरे बेकार हो जाते हैं। डॉ. उत्सव राज ने कहा कि पिछले 5 सालों में फेफड़े के अलावा अन्य अंगों की टीबी के 20 फीसद मरीज बढ़े हैं। जागरूकता शिविर में अध्यक्ष कुमार ने कहा कि सबसे ज्यादा शहरों का प्रदूषण बना रहा टीबी का मरीज। स्वास्थ्य विशेषज्ञों के मुताबिक इस समय दुनिया भर में एड्स के बाद सबसे ज्यादा मौतें टीबी से ही हो रही हैं। शहरों का प्रदूषण टीबी रोग के बढ़ने की सबसे प्रमुख वजह है। सड़क पर उड़ने वाली धूल-मिट्टी और कंस्ट्रक्शन वर्क से होने वाला प्रदूषण लोगों को तेजी से टीबी की तरफ धकेल रहा है।

Posted By: Jagran