दरभंगा। लनामिविवि में लगातार चौथे दिन भी छात्र संघ का अनशन जारी रहा। विवि छात्र संघ के अध्यक्ष सूरज कुमार के नेतृत्व में आंदोलन चल रहा है। शुक्रवार को भी विवि में आधा कार्यालय खुले रहे। परीक्षा विभाग एवं डीएसडब्ल्यू कार्यालय बंद रहे। वीसी आज भी मुख्यालय से बाहर रहे। वहीं समाचार लिखे जाने तक छात्र संघ के साथ वार्ता चल रही थी। कुलसचिव कर्नल निशीथ कुमार राय ने रात 9.00 बजे में फोन करने पर सूचना दी। उन्होंने कहा कि वार्ता के लिए जिला प्रशासन के लोग भी आए हुए हैं। दूसरी ओर छात्र संघ अध्यक्ष ने कहा कि यह अनशन छात्रों की समस्या को लेकर किया जा रहा है। क्योंकि विश्वविद्यालय को बार-बार छात्र हित में काम करने को कहा गया। लेकिन, विश्वविद्यालय प्रशासन लगातार अपनी मनमानी करता आ रहा है। इसी लिए बाध्य होकर छात्रसंघ को यह कदम उठाना पड़ा।

आज विवि के अंतर्गत चारों जिलों के ज्यादातर कॉलेज बंद किए गए थे।प्रतिकुलपति एवं रजिस्ट्रार से आज भी वार्ता हुई लेकिन सहमति नहीं बनने के कारण वार्ता विफल रही। विवि थानाध्यक्ष से भी वार्ता हुई लेकिन वह वार्ता भी विफल रही।

है। छात्र संघ संयुक्त सचिव प्रियदर्शनी कुमारी ने कहा कि परीक्षा नियंत्रक के कार्यकाल में इतिहास में पहली बार पार्ट 2 का परीक्षा बिना प्रवेश पत्र का कराया गया। छात्रों का प्रवेश पत्र में गड़बड़ियां किसी और के सिग्नेचर किसी और का फोटो दे देना जिसके कारण आए दिन विश्वविद्यालय की बदनामी होती रहती है। अनशनकारी कुंदन मिश्रा ने कहा कि कुलपति का तानाशाही रवैया अब नहीं चलेगा। मधुबनी के कुंदन कुमार ¨सह, मनीष कुमार, अशोक कुशवाहा, विशाल कुमार चौधरी, र¨वद्र कुमार, आदर्श कुमार, पृथ्वीराज चौधरी, राकेश साहू, अजय कुमार, अभिजीत मुखर्जी, उत्सव पाराशर, जया ¨सह सहित कई छात्र छात्राएं मौजूद थे।

Posted By: Jagran