दरभंगा। डीईओ महेश प्रसाद ¨सह ने मंगलवार को मनीगाछी प्लस टू उच्च विद्यालय, नेहरा के निरीक्षण मंगलवार को किया। विद्यालय परिसर में व्याप्त गंदगी, अध्यापन कार्य में अव्यवस्था, प्रभारी प्रधानाध्यापक की कार्यशैली एवं छात्रों की उपस्थिति से खिन्न होकर व्यवस्था में सुधार करने की सख्त हिदायत प्रभारी प्रधानाध्यापक मो. साबिर हुसैन को दी। परिसर में व्याप्त गंदगी एवं छात्रों की नगण्य उपस्थिति को देखकर प्रधानाध्यापक सहित सभी शिक्षकों को उन्होंने हड़काया। इस विद्यालय में नामांकित बच्चों की संख्या 1075 है। जिसमें मंगलवार को जांच के दौरान महज 162 बच्चे ही उपस्थित थे। वर्ग 9 में नामांकित बच्चे 452 ,वर्ग 10 में 508, वर्ग 11 में 75 एवं वर्ग 12 में 50 हैं। जांच के दौरान वर्ग 9 में 77, वर्ग 10 में 67 वर्ग, 11 में शून्य एवं वर्ग 12 में महज 8 बच्चे ही उपस्थित पाए गए। एक भी क्लास में ब्लैक बोर्ड के प्रयोग नहीं होते देख यहां की शिक्षण व्यवस्था के संबंध में गुणवत्तापूर्ण शिक्षा नहीं होने की बात कही। वर्ग व्यवस्था से खिन्न डीईओ ने विद्यालय में भेजी गई राशि के संबंध में अभिलेखों की जांच की। जांच के दौरान तीन वर्ष पूर्व विद्यालय को भेजे गए साईकिल, पोशाक मद, फर्नीचर,प्रयोगशाला सामग्री, छात्र वृत्ति एवं प्रोत्साहन के अलावे बच्चों के परिभ्रमण के लिए भेजी राशि को विद्यालय खाते में देखकर प्रधानाध्यापक की लापरवाही की बात बताई

Posted By: Jagran