दरभंगा । लहेरियासराय स्थित राम जानकी मंदिर पचाढ़ी मठ में विवाह पंचमी के मौके पर श्रीराम कथा का आयोजन किया गया। इस दौरान 151 कुंवारी कन्याओं ने कलश शोभा यात्री निकाली। 11 पंडितों द्वारा आचार्य श्रीशिवराम चौधरी एवं राम कथा के उदघाटनकर्ता श्री रामचन्द्र दास जी महाराज, मौनी बाबा, रतन किशोर दास जी महाराज, अवध किशोर दास जी महाराज, श्रीकांत दास जी महाराज, श्याम सुन्दर दास जी महाराज, डीएमसीएच के प्राचार्य डॉ. एचएन झा गोपाल जी ठाकुर आदि मौजूद थे। कथा वाचक श्रद्धेय परम पूज्य श्रवण दास जी महाराज ने कलयुग में राम कथा के महत्व को बताते हुए कहा है कि आज प्रत्येक मानव जीवन में राम कथा जरूरी है। क्योंकि राम ही एक ऐसे तत्थ है कि जिनकी जीवन गाथा ही सभी मानव को सही ढ़ंग से समाज के जीने के लिए प्रेरित करती है। व्यास जी के साथ आए कलाकार प्रवीण झा, मनीष ¨सह, नंदन राम, मोहनजी ने अपने सुमधुर स्वर में संगीत के माध्यम से सभी श्रोताओं को आनंदित किया।

Posted By: Jagran