दरभंगा। बिहार राज्य पारामेडिकल छात्र संघर्ष समिति डीएमसीएच शाखा के छात्र-छात्राओं ने बुधवार को दूसरे दिन भी तालाबंदी की और उपवास जारी रखते हुए धरना दिया। आंदोलनकारियों ने एफएमटी, फार्माकोलॉजी, पैथोलॉजी और प्राचार्य कार्यालय में तालाबंदी की। इससे दरभंगा मेडिकल कॉलेज का प्रशासनिक कामकाज बाधित रहा। वहीं तीन विभागों तथा पोस्टमार्टम में पठन-पाठन प्रभावित हुआ। पैथोलॉजी विभाग में दूरदराज से जांच कराने पहुंचे कई मरीज बैरंग लौट गए। कई कर्मी कार्यालय से बाहर चक्कर काटते दिखे। प्राध्यापकों, पीजी और अंडर ग्रेजुएट छात्र छात्राओं को परेशानी उठानी पड़ी। छात्रों की मांगों में एकेडमिक कैलेंडर लागू करने, छात्रावास, छात्रवृत्ति एवं पारामेडिकल बैचलर डिग्री की पढ़ाई शुरू करने आदि शामिल है। मौके पर छात्र संघर्ष समिति के अध्यक्ष सुरेंद्र कुमार सुमन, पवन, पंकज, सुमंत, कार्तिक, अरुण, श्रवण, दुर्गानंद, मधु, निशा, चंदा, श्वेता, सुष्मिता, शशि, रौशन आदि मौजूद रहे।

--------------------------------

Posted By: Jagran