दरभंगा। बिरौल में एक वर्ष के बाद रोगी कल्याण समिति की बैठक अध्यक्ष सह पीएचसी प्रभारी डॉ. फूल कुमार मिश्र की अध्यक्षता में संपन्न हुई। गठन के एक वर्ष बाद पहली बार रोगी कल्याण समिति की बैठक होने के कारण सदस्यों एवं चिकित्सा प्रभारी एवं स्वास्थ्य प्रबंधक के बीच पहले परिचय हुआ। बैठक में उपस्थित सदस्यों ने पीएचसी की अंदरुनी समस्याओं पर चर्चा करते हुए उसके समाधान करने के लिए आपसी सहमति प्रदान की गई। जिसमें सबसे अहम मुद्दा सीएचसी भवन उपलब्ध होने के बावजूद इसमें अभी तक पीएचसी की सुविधा मिल रही है, पीएचसी परिसर को अतिक्रमण से मुक्त करते हुए उसका सीमांकन करने का प्रस्ताव पारित किया गया। इसके अलावा परिसर में पूर्व से सूखे वृक्षों को वन विभाग को सूचित करते हुए उसकी नीलामी करने, पीएचसी के तालाब की सौंदर्यीकरण करने के उद्देश्य से उसकी उड़ाहीकरण करने के साथ ही चिकित्सकों एवं एएनएम की रिक्त पदों को भरने के लिए जिला स्वास्थ्य समिति के अध्यक्ष सह जिला पदाधिकारी को भेजने का प्रस्ताव पारित किया गया। पीएचसी में महिला मरीजों की अत्याधिक संख्या रहने के कारण यहां महिला सुरक्षा कर्मी की प्रतिनियुक्त करने पर बल दिया गया है। महिनों से बंद पड़े सीसीटीवी कैमरे को जल्द चालू कराने, पीएचसी के बाहरी परिसर के महत्वपूर्ण स्थान पर चूना व ब्ली¨चग का छिड़काव सहित 14 प्रस्ताव बैठक में सदस्यों ने पारित किया। मौके पर स्वास्थ्य प्रबंधक एम फारुकी, गणेश झा, अजय बिरौलिया, संजय पासवान, शत्रुघ्न सहनी, रजनी महतो, रीना ¨सह सहित अन्य सदस्य मौजूद थे।

---------------

Posted By: Jagran