दरभंगा । नगर थाने क्षेत्र के लालबाग प्रधान डाकघर के पास मंगलवार की देर रात बाइक सवार दो राहगीरों को पिस्टल दिखाकर लूटपाट करने के मामले में पुलिस ने 24 घंटे के अंदर उदभेदन कर दिया। लूटे गए मोबाइल को बरामद एक शातिर को पुलिस ने दबोच लिया है। जबकि, कुछ शातिर फरार हैं। उसे गिरफ्तार करने के लिए छापेमारी की जा रही है। लहेरियासराय थाने क्षेत्र के नाका नंबर छह स्थित रहमगंज मोहल्ला में नगर एसपी योगेंद्र कुमार के नेतृत्व में पुलिस ने छापमारी की और शातिर बदमाश विष्णु गिरी को गिरफ्तार कर लिया। वह मनोज भारती का पुत्र है। उसके घर से पुलिस ने चोरी के 11 मोबाइल बरामद किया है। साथ में एक तेज धार वाला डायगर भी शामिल है। मंगलवार की रात लुटे गए दोनों मोबाइल विष्णु के चाचा के घर से बरामद हुआ है। हालांकि, चाचा पुलिस को चकमा देकर फरार हो गया। उसके घर से पुलिस भारी मात्रा जेवरात और नकदी बरामद किया है। नगर एसपी कुमार ने बताया कि उसके घर से चांदी की तीन ईंट, काफी मात्रा में चांदी के सिक्के और 90 हजार रुपये नकद राशि मिले हैं। जिसकी जांच की जा रही है। यह जेवरात चोरी की है अथवा पूरा परिवार गिरोह बनाकर लूटपाट की घटना को अंजाम दे रहे थे। इसकी जांच की जा रही है। लेकिन, लूट के दो मोबाइल बरामद होने से यह स्पष्ट हो गया है कि शहर में आए दिन घट रहे घटना को यही लोग बाइकर्स गैंग के माध्यम से अंजाम दे रहे थे। फिलहाल, पूछताछ जारी है। उन्होंने बताया कि पूरे परिवार के लोग फरार है। उसके चाचा को पकड़ने के लिए छापेमारी की जा रही है। बता दें कि मंगलवार की रात हसन चौक निवासी श्रवण चन्द्रवंशी के पुत्र अनुराग कुमार अपने दोस्त व पड़ोस के रहने वाले राहुल कुमार के साथ आयकर चौक के पास रात्रि के दस बजे के आस-पास एक होटल से खाना लेकर वापस जा रहे थे। इसी बीच लालबाग डाकघर के पास पल्सर बाइक सवार दो बदमाशों ने रोका और पिस्टल निकालकर सटा दिया और दोनों का मोबाइल और नकद राशि लूटकर फरार हो गया।

Posted By: Jagran