दरभंगा । वर्ष 2005 से पहले का बिहार क्या था और अब क्या हैं, इसका आंकलन पहले लोगों को करना चाहिए। यह भी सोचना चाहिए कि 2005 से पहले सामाजिक और राजनैतिक स्तर पर अतिपिछड़ों की क्या भागीदारी और हिस्सेदारी थी। नीतीश कुमार अतिपिछड़ों की आवाज है। मुख्यमंत्री ने अतिपिछड़ा समाज को मुख्यधारा से जोड़ने का काम किया। हमारे नेता के कथनी और करनी में कोई अंतर नहीं है। जो कहते हैं, वह करते है। विधानसभा चुनाव आने वाला है। जो नेता केवल भाषण देते फिर रहे है, वे पिछले लोकसभा चुनाव में दहाई का आंकड़ा भी नहीं पार कर सके। कहा कि पूरे मिथिलांचल क्षेत्र को बाढ़ की समस्या से मुक्ति दिलाने की दिशा में उनका विभाग कार्य कर रहा है। अक्टूबर के बाद से काम शुरू हो जाएगा। कहा कि जिस वक्त नीतीश कुमार को गद्दी मिली थी, उस वक्त उन्होंने जीरो से काम करना शुरू किया। आज से पचास साल बाद लोगों को मालूम पड़ेगा कि नीतीश कुमार ने बिहार के लिए क्या-क्या किया। इतिहास में सीएम का नाम दर्ज होगा। कहा कि नीतीश कुमार के आसपास कोई भी नेता खड़ा हुआ दिखाई नहीं दे रहा।

-----------------

नीतीश कुमार हिदुस्तान के बेस्ट सर्जन : फातमी

पूर्व केंद्रीय मंत्री मो. अली अशरफ फातमी ने कहा कि नीतीश कुमार की वजह से ही वर्ष 1991 लोकसभा चुनाव में उन्हें लोकसभा टिकट मिला। वे उनके सियासी गुरू रहें है। कहा कि नीतीश हिदुस्तान हिदुस्तान के बेस्ट सर्जन है और आरसीपी सिंह बेस्ट रेडियोलॉजिस्ट। ये बीमारी का पता लगाकर नीतीश कुमार के सामने रख देते है। राजद पर हमला करते फातमी ने कहा कि चंद पैसे के लिए पार्टी ने मधुबनी की सीट बेच दी। कहा कि 30 साल के राजनैतिक जीवन में उनके ऊपर कोई दाग नहीं है। कहा कि वे पार्टी के लिए बड़ा काम कर रहे है। आगामी विधानसभा चुनाव तक वे कम से कम दो सौ सभाएं करेंगे। उन्होंने आरसीपी सिंह को आश्वस्त किया कि दरभंगा में जदयू एक बड़ी पार्टी बनकर उभरेगी। नीतीश कुमार ने सभी वर्गाें के लोगों को गले लगाया। सबके लिए काम किया।

--------------

कर्पूरी ठाकुर के सपने को नीतीश ने धरातल पर उतारा : मंगनी

झंझारपुर के पूर्व सांसद मंगनी लाल मंडल ने कहा कि जननायक कर्पूरी ठाकुर, जयप्रकाश नारायण व महात्मा गांधी के सपनों को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने धरातल पर उतारा है। कहा कि सीएम कर्मवीर है। उनका काम बोलता है। मंडल ने कहा कि यह तरह का सम्मेलन प्रत्येक दो-तीन महीने के अंतराल पर अलग-अलग जिले में होता रहना चाहिए। कहा कि नीतीश ने अतिपिछड़ा को समाज की मुख्यधारा से जोड़ा। इतना ही नहीं, पहले जो लड़कियां और महिलाएं अपने घरों में कैद रहती थी, उन्हें भी सम्मानजनक जीवन जीने का अधिकार दिया।

-------------

जिसके साथ अतिपिछड़ा, उसकी जीत पक्की : मदन

खाद्य आपूर्ति मंत्री मदन सहनी ने कहा कि जब-जब चुनाव हुआ और चुनाव परिणाम सामने आए, यह देखा गया कि जिसके पक्ष में अतिपिछड़ा खड़ा हुआ, वह चुनाव जीत गया। कहा कि नीतीश कुमार ने ही 15 साल के जंगलराज से बिहार के लोगों को आजाद कराया। 14 साल से सीएम अतिपिछड़ा के लिए मेहनत कर रहे है। आहृवान किया कि आगामी विधानसभा में पार्टी जिसे भी टिकट दें, उनको समाज माला पहनाएं। कहा कि आरजेडी के शासनकाल में कोई भी काम नहीं हुआ। नीतीश कुमार ने अतिपिछड़ा समाज को पंचायत चुनाव से लेकर लोकसभा चुनाव तक में मौका दिया। कहा कि सरकारी स्तर पर बहुत सारी योजनाएं चल रही है, उसका लाभ लोगों को उठाना चाहिए। कहा कि सबसे अधिक इन बातों को किसी समाज को समझने की जरूरत है तो वह हैं अतिपिछड़ा समाज। समाज में राजनैतिक जागरुकता की कमी है। समाज के लोग अपनी एकजुटता नहीं दिखा पाते। यहीं कारण हैं कि वे विरोधियों के झांसे में आ जाते है। शराबबंदी को लेकर विरोधी कहते है कि इसकी होम डिलेवरी हो रही है। मैं पूछना चाहता हूं कि इस सभा में आएं हजारों लोगों में से किसी ने शराब का सेवन किया होगा तो मैं सन्यास ले लूंगा।

---------------

आपदा मंत्री लक्ष्मेश्वर राय ने कहा कि आनेवाले समय में अतिपिछड़ा समाज को बिहार की राजनैतिक दिशा तय करनी है। कहा कि 2005 के बाद से अतिपिछड़ा की स्थिति में सुधार हुआ है। अतिपिछड़ा समाज की मुख्यधारा से जोड़ना है। न्यायिक सेवा में भी अब समाज को आरक्षण मिला है। समाज आगे बढ़े, इसके लिए लोगों को अपनी जुबान खोलनी होगी। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार चाहते है कि बिहार सुंदर राज्य बनें।

---------------

जहानाबाद के सांसद चंदेश्वर प्रसाद चंद्रवंशी ने लोगों से आहृवान किया कि वे सीएम के हाथों को मजबूत करें। आगे भी अपनी एकजुटता कायम रखें। सरकार की योजनाओं का लाभ समाज के अंतिम व्यक्ति तक पहुंचे, इस दिशा में कार्य करने की जरूरत है। सबको मिलकर सीएम के सपनों को साकार करना है।

------------

इससे पूर्व सांसद आरसीपी सिंह ने कार्यक्रम का दीप प्रज्जवलित कर उद्घाटन किया। कार्यकर्ताओं ने मखाला का माला पहनाकर सभी अतिथियों को सम्मानित किया। इस दौरान सिंहवाड़ा की प्रमुख आरती देवी मंडल और उपेंद्र मुखिया ने जदयू का दामन थामा। मौके पर जदयू विधायक सुनील चौधरी, शशिभूषण हजारी, विधान पार्षद दिलीप चौधरी, जदयू जिलाध्यक्ष प्रो. विनय कुमार चौधरी, पूर्व जिलाध्यक्ष सुनील भारती, इस्मत जहां, मृदुला राय, मदन प्रसाद राय, दीदार हुसैन चांद, रामप्रवेश पासवान, शिवनंदन सिंह, अनिल बिहारी, कन्हैया साह, श्याम किशोर प्रधान, कमलेश मंडल, अली हसन अंसारी सहित हजारों की संख्या में कार्यकर्ता मौजूद थे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप