दरभंगा। सदर थाना क्षेत्र के ककरघाटी में एक बच्ची को ट्रक रौंद कर फरार हो गया। घटना स्थल पर ही बच्चे की मौत हो गई। मृतक बच्चे की शिनाख्त स्थानीय गांव निवासी गणेश सहनी की पुत्री सरस्वती कुमारी (6) के रूप में की गई है। घटना के आक्रोश में लोगों ने दरभंगा-सकरी पुरानी रोड को जाम कर दिया। आक्रोशितों ने पुलिस के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। नाराज लोगों का कहना था कि आए दिन इस सड़क पर घटनाएं घट रही है और जान जा रही है। बावजूद, निदान के दिशा में कोई पहल नहीं की जा रही है। तेज रफ्तार से गाड़ी चलाने वालों पर लगाम भी नहीं लगाया जा रहा है। मौके पर पहुंचे बीडीओ रवि सिन्हा व थानाध्यक्ष राजन कुमार आक्रोशित लोगों को काफी समझाने की कोशिश की। लेकिन, कोई मानने को तैयार नहीं हो रहे थे। सड़क पर ही शव को रखकर मुर्दाबाद का नारा लगा रहे थे। चार घंटे तक जाम रहने के कारण वाहनों की लंबी कतार लग गई। कई एंबुलेंस भी फंसी रही। नाराज लोगों का कहना था कि इस मार्ग में ¨लक पथ अनिवार्य है। लेकिन, उसका निर्माण नहीं कराया जा रहा है। 20 हजार रुपये बतौर मुआवजा की राशि दी गई। साथ ही ¨लक पथ निर्माण के लिए डीएम को पत्र लिखने का आश्वासन दिया। इसके काफी मान-मनौव्वल के बाद आक्रोशित लोग जाम हटाने को राजी हुए। बिजली पंचायत के पंसस केशरी कुमार यादव, मुखिया अवधेश यादव, रानीपुर पंचायत के मुखिया राज कुमार दास, रत्नेश यादव आदि आक्रोशित लोगों को शांत कराने में सक्रिय रहे।

इसके बाद पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम कराने के बाद परिजन को शव सौंप दिया गया। इधर, पुलिस ने सड़क जाम करने वाले छह लोगों को नामजद करते हुए प्राथमिकी दर्ज की है।

------------------------------------

Posted By: Jagran