दरभंगा । आजादी के बाद से किसी भी जनप्रतिनिधि ने दरभंगा के विकास को लेकर कोई कारगर प्रयास नहीं किया। लोग बाहर से आकर यहां चुनाव जीतकर चले गए, लेकिन मिथिलांचल के विकास में किसी ने कोई रुचि नहीं दिखाई। यहीं कारण है कि विकास की किरण से अभी भी मिथिलांचल का यह इलाका कोसों दूर है। 70 वर्षों में ना तो कोई उद्योग-धंधा लगाया जा सका, ना ही ढ़ग के अस्पताल का निर्माण कराया जा सका है। लोगों को बेहतर इलाज के लिए महानगरों का रुख करना पड़ रहा है। दैनिक जागरण से खास बातचीत के दौरान उक्त बातें सांसद गोपालजी ठाकुर ने कहीं। कहा कि डीएमसीएच में इलाज कराने पहले आसपास के कई जिलों के अलावा नेपाल से भी लोग दिखाने आया करते थे। वर्तमान के डीएमसीएच की व्यवस्था से हर कोई परिचित है। नाला निकासी नहीं होने से कई महीने यहां जलजमाव की समस्या बनी रहती है। यहां तक की इसका परिसिमन तक नहीं किया जा सका है। ना केवल डीएमसीएच बल्कि दोनों विश्वविद्यालयों का परिसिमन तक नहीं है। कई बीधा जमीन अतिक्रमित कर ली गई है। कोई देखने वाला नहीं है। सांसद ने कहा कि जिस प्रकार प्रधानमंत्री देश हित को लेकर कठोर निर्णय ले रहे है, ठीक उसी प्रकार दरभंगा के विकास के लिए यदि उनको भी कठोर निर्णय लेना पड़ा तो वे पीछे नहीं हटेंगे। कहा कि प्रधानमंत्री के सपने का भारत बनाने के लिए शहर से लेकर गांव तक कार्यकर्ता कार्य कर रहे है। गांधी जयंती के अवसर पर भी उनके नेतृत्व में पदयात्रा की गई। इसके अलावा कई पौधरोपण सहित कई कार्यक्रम किए गए। यह सिलसिला आगे भी चलता रहेगा। उन्होंने कहा कि पीएम कई जनकल्याणकारी योजनाएं चला रहे है। इसका लाभ समाज के सभी वर्गों को मिल रहा है। किसी खास वर्ग को ध्यान में रखकर पीएम कोई योजना नहीं बनाते। कहा कि हाल के दिनों में तीन तलाक, कश्मीर से धारा 370 व 35 ए को हटाया गया। इसका सभी वर्गों से स्वागत किया। सांसद ने बताया कि दरभंगा के लोगों को यहां बेहतर इलाज की सुविधा मिले, इस दिशा में सुपरस्पेशलिटी अस्पताल सहित एम्स का निर्माण होना है। साथ ही दरभंगा से महानगरों के लिए उड़ान सेवा भी दिसंबर तक शुरु किए जाने की उन्होंने बात कहीं। कहा कि इस दिशा में वे लगातार अधिकारियों से बात कर रहे है। हाल के दिनों में बारिश के कारण एयरपोर्ट का काम प्रभावित हुआ है। कहा कि दरभंगा वासियों की प्रत्येक मांगों पर काम किया जा रहा है।

-----------------

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप