दरभंगा । मधेपुरा सांसद सह जन अधिकार पार्टी के संरक्षक राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव ने शनिवार को नारी बचाओ पदयात्रा की शुरुआत सदर प्रखंड क्षेत्र के उच्च विद्यालय जीवछ घाट से की। यात्रा के दौरान खुटवारा मोड़ से निकलकर गौसाघाट, सारामोहम्मद, गंगवारा बेल मोड़ होते हुए पूरे दरभंगा शहर का भ्रमण किया। यात्रा के दौरान सड़क पर चल रहे सभी नागरिकों का अभिवादन स्वीकार करते हुए आगे बढ़ते रहे। सैकड़ों कार्यकर्ता उनके साथ सड़क पर सरकार विरोधी नारे लगाते चल रहे थे। उन्होंने कहा कि मुजफ्फरपुर बालिका गृह मामले जिस प्रकार से व्यभिचार और हो रहा था यह सरासर लोकतंत्र का अपमान है। नारी और महिलाओं के अधिकार एवं सम्मान के लिए सड़क से लेकर सदन तक संघर्ष करूंगा। इस मामले को लेकर जब लोकसभा में आवाज बुलंद किया तब केंद्र सरकार ने इस मामले की जांच सीबीआइ से कराने का आश्वासन सदन को दिया । लेकिन राज्य सरकार की मंशा से लग रहा है कि इस मामले को दबाने का प्रयास हो रहा है।

मुख्य आरोपी के मुंह पर कालिख पोतने के लिए सांसद ने छात्र एवं महिला परिषद को धन्यवाद दिया। पटना में हाई प्रोफाइल और सभी नेताओं की ड्राइंग रूम की शोभा बनी आसरा बालिका गृह चलाने वाली मनीषा दयाल के मामले में हमारी पार्टी ने तत्परता दिखाई। जिसके कारण मनीषा दयाल और चिरंतन की गिरफ्तारी हुई। मुजफ्फरपुर बालिका गृह से भेजी गई एक बच्ची मधुबनी से गायब हो गई थी। इसका संचालन उस व्यक्ति द्वारा किया जा रहा है जो सत्ता के केंद्र में रहे नजदीकी के पीए की पत्नी है। इसलिए सारा मामला एक दूसरे से जुड़ा हुआ है और इस मामले की गहन जांच होनी चाहिए। पदयात्रा के दौरान जिला अध्यक्ष मुन्ना खान सहित सैकड़ों नेता व कार्यकर्ता थे।

Posted By: Jagran