दरभंगा। एलएन मिथिला यूनिवर्सिटी में च्वाइस बेस्ट क्रेडिट सिस्टम को पीजी में सत्र 2018-20 से लागू कर दिया गया है। सीबीसी सिस्टम के मुताबिक विवि में नामांकन भी शुरू हो चुका है। लेकिन, इसके सिलेबस के मुताबिक पाठ्यसामग्री तैयारी करने में कसरत करनी होगी। अभी सबसे परेशानी एबिलिटी इंहांसमेंट कंपलसरी कोर्स यानी योग्यता संवर्धन अनिवार्य पाठ्क्रम के मुताबिक पाठ्यसामग्री तैयार करनी है। पहले सेमेस्टर में स्वच्छ भारत अभियान और पर्यावरण के संबंध में पढ़ना है। लगातार तीन सेमेस्टर के लिए सिलेबस में अलग-अलग विषय रखना है। तीनों सेमेस्टरों में सौ-सौ अंक का सिलेबस है। जिसका अंक रिजल्ट में नहीं जुटेगा। लेकिन, छात्रों को क्वालिफाई मा‌र्क्स लाना अनिवार्य होगा। लेकिन, किसी सेमेस्टर के लिए सिलेबस के मुताबिक पाठ्यसामग्री उपलब्ध नहीं है। अभी विवि पहले सेमेस्टर की पाठ्यसामग्री तैयारी में जुटा है। पाठ्यसामग्री के लिए सभी 5 नव नियुक्त सहायक प्राचार्यों की कमेटी गठित की गई है। इनके माध्यम से सामग्री प्राप्त हो जाने के बाद फिर एक विशेषज्ञों की कमेटी से इसकी समीक्षा कराने के बाद विवि की ई- पाठशाला की वेबसाइट पर पाठ्यसामग्री डाल दी जाएगी। जिससे छात्रों को खुद पढ़ना होगा। जानकारी के मुताबिक विवि सहित पीजी पढ़ाई वाले कॉलेजों इस कोर्स को पढ़ाने वाले फिलवक्त शिक्षक भी उपलब्ध नहीं हैं। अब आगे देखना है कि इसे किस तरह से छात्र ले रहे हैं।

Posted By: Jagran