दरभंगा । सिंहवाड़ा प्रखंड की अस्थुआ पंचायत स्थित प्लस टू मिथिला उच्च विद्यालय की कुव्यवस्था व वित्तीय अनियमितता के विरोध में 18 अक्टूबर को स्थानीय जनप्रतिनिधि व ग्रामीण विद्यालय परिसर में अनिश्चितकालीन आमरण अनशन करेंगे। इस आशय का आवेदन मुखिया प्रतिनिधि विपिन झा व सरपंच मनोज झा, पंचायत समिति सदस्य रिपू ठाकुर सहित अन्य ग्रामीणों ने डीएम व शिक्षा विभाग को सौंपा है। इसमें कहा है कि पठन-पाठन की व्यवस्था चौपट है और दो-दो प्रधानाध्यापक अपने वर्चस्व की लड़ाई मे शैक्षणिक व्यवस्था को चौपट कर रखे हैं। अभी नवमीं व दसवीं की सेकंड टर्मिनल की परीक्षा भवन के अभाव में विद्यालय परिसर के बगीचा में हो रही है। शनिवार को जनप्रतिनिधि स्थिति का जायजा लेने स्कूल पहुंचे। इस बीच उपस्थित बच्चों ने उनका घेराव कर आक्रोश जताया। आवेदन में बताया है कि वर्ग आठ से बारहवीं तक कुल 1071 छात्रों का नामांकन है। 14 शिक्षक, चार अतिथि शिक्षक, एक पुस्तकालय अध्यक्ष, एक लिपिक व दो आदेशपाल के सहारे विद्यालय का संचालन हो रहा है। दो प्रधानाध्यापक के बीच गुटबाजी स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर 15 अगस्त को सामने आई, जब स्कूल में अलग-अलग ध्वजारोहण किया गया। छात्रों ने बताया कि पोशाक, साइकिल व प्रोत्साहन राशि वर्ष 2017 से नहीं मिल रही है। मात्र दो कमरे में वर्ग संचालन होता है। भवन के अभाव में अधिकतर छात्र सिर्फ परीक्षा के समय ही स्कूल जाते हैं। स्कूल में शिक्षा समिति का गठन नहीं है। हाई स्कूल में स्मार्ट क्लास संचालन को लेकर आया उपकरण शोभा की वस्तु बनकर रह गया है। गुटबाजी के कारण स्मार्ट क्लास शुरू नहीं किया जा सका है। बीईओ के निर्देश पर उपकरण वाले कमरे में ताला लगा हुआ है। दूसरा ताला प्रभारी प्रधानाध्यापक ने जड़ दिया है। ग्रामीणों का आरोप है कि शिक्षक समय पर नहीं आते हैं। छात्र हित की सारी बातें कागजों में सिमट कर रह गई है। जिस कारण विद्यालय के छात्रों का भविष्य अंधकारमय बना हुआ है। ग्रामीणों ने कहा है कि सभी समस्याओं से जिलाधिकारी व अन्य अधिकारियों को स्मार पत्र के माध्यम से जानकारी देकर 18 अक्तूबर से विद्यालय परिसर में अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल शुरू की जाएगी। विद्यालय के प्रधानाध्यापक सहित सभी शिक्षकों का सामूहिक स्थानांतरण, विगत पांच वर्षों में आय-व्यय की जांच सक्षम पदाधिकारी से कराने, भवन निर्माण व परिसर की घेराबंदी, जिला शिक्षा पदाधिकारी की भूमिका की जांच करने सहित अन्य मांग रखी गई है। अनशन में स्कूल पोषक क्षेत्र के अस्थुआ, कलिगांव, भरवाड़ा, निस्ता पंचायतो के जनप्रतिनिधि व ग्रामीण शामिल होंगे। इस संबंध मे प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी अशोक मिश्र ने बताया है कि प्रभारी प्रधानाध्यापक शकीलुर रहमान व फिरोज आलम के बीच विवाद को लेकर जांच चल रही है। स्कूल विकास मद के राशि गबन की शिकायत का समाधान एचएम द्वारा किया गया है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप