दरभंगा । आंगनबाड़ी केंद्रों की सेविका-सहायिकाओं की हड़ताल शनिवार को चौथे दिन भी जारी रही। हड़तालियों ने सीडीपीओ कार्यालय में ताला जड़ दिया। इस कारण बच्चों को पोषाहार नहीं मिल सका। हड़तालियों ने 15 सूत्री मांगों को लेकर धरना प्रदर्शन और सभा का आयोजन किया। अराजपत्रित कर्मचारी यूनियन महासंघ के जिला मंत्री फूल कुमार झा ने कहा कि सरकार ने सेविका व सहायिका को बंधुआ मजदूर से भी बदतर स्थिति में लाकर खड़ा कर दिया है। आंदोलन बिहार राज्य आंगनबाड़ी संयुक्त संघर्ष समिति की ओर से किया गया है।

------------------

हायाघाट : शाहीन प्रवीण व धर्मशीला देवी की संयुक्त अध्यक्षता में सभा हुई। धरना को वीएसएलआर यूनियन स्टेट मंत्री सत्यप्रकाश चौधरी, यूनियन के विधि सलाहकार अमरचंद्र लाल, संरक्षक कामेश्वर प्रसाद ¨सह, मीडिया प्रभारी रामाकांत पासवान, संरक्षक मो इकबाल, मो इबरार सिद्दीकी, मुन्नी चौधरी, नीता कुमारी, मंजू देवी, गौड़ी देवी, कुमारी सादिया, सीता देवी, सुधीरा कुमारी, संगीता ¨सह, भवानी झा, शोभा देवी, सरस्वती देवी, राजकुमारी देवी, समीना खातून, ¨रकू देवी, संगीता देवी, उजान देवी, बेवी देवी आदि ने संबोधित किया। केवटी : हड़ताल के कारण प्रखंड के 242 आंगनबाड़ी व 10 मिनी आंगनबाड़ी केंद्र प्रभावित रहा। हड़तालियों ने कार्यालय के समक्ष सरकार विरोधी नारे लगाए।

Posted By: Jagran