कोट :

शौचालय निर्माणा कार्य को ले एक हजार आवेदनों को रद किया गया है। एक ही परिवार से चार-से पांच लोगों ने आवेदन दिया है। इनके आवेदनों को जांच के बाद रद किया गया है। बचे हुए शौचालय निर्माण कार्य जल्द शुरू किए जाएगा।

रूमा कुमारी, प्रखंड समन्वयक।

---------------- बचे हुए शौचालय निर्माण कार्य को 30 सितंबर तक पूरा करवा लिया जाएगा। साथ ही लाभार्थियों के शौचालय निर्माण कार्य के बाद 12 हजार रुपये जीरो टैगिग के बाद खाते में भेजे जाएंगे।

तनय सुलतानिया, डीडीसी।

------------

दरभंगा। बेनीपुर प्रखंड में स्वच्छ भारत अभियान की हवा निकल रही है। जी हां, प्रखंड क्षेत्र की कुल 16 पंचायतों को खुले में शौचमुक्त घोषित किया गया था। लेकिन इसके बाद भी क्षेत्र के 30 फीसदी लोगों के घरों में शौचालय की सुविधा नहीं है। सूत्रों की मानें तो लक्ष्य के अनुरूप शौचालय निर्माण नहीं होने से 30 फीसदी लोग शौचालय लाभ से वंचित हैं। प्रखंड क्षेत्र की कुल 16 पंचायतों में 31 मार्च तक कुल 26 हजार शौचालय निर्माण का लक्ष्य रखा गया था। इसके विरुद्ध मात्र 22 हजार शौचालय ही निर्माण हो सका। बताया जाता है कि सभी पंचायतों में तीन हजार से अधिक ऐसे लाभार्थी हैं जिन्होंने शौचालय का निर्माण कार्य तो पूरा किया है, लेकिन अभी तक इनके खाते में शौचालय निर्माण की राशि नहीं पहुंची है।

------------- महादलित टोले में शौचालय निर्माण कार्य अधूरा प्रखंड क्षेत्र के 30 गावों के महादलित टोले में शौचालय निर्माण कार्य को ले जिलाधिकारी ने प्रखंड समन्वयक रूमा कुमारी को बीते 31 मार्च तक सार्वजनिक शौचालय निर्माण कार्य पूरा करवाने का निर्देश दिया था। लेकिन, अभी तक तीन गांवों के महादलित टोले के नजदीक ही सार्वजनिक शौचालय का निर्माण हो सका है। 10 गांवों के महादलित टोले के नजदीक सार्वजनिक शौचालय का कार्य अभी निर्माणाधीन है। जबकि, 17 गांवों के महादलित टोले के नजदीक अभी तक शौचालय निर्माण कार्य शुरू नहीं हुआ है। महिनाम, हाबीभौआर, बाथो- रढियाम, तरौनी, गणेश बनौल, बलनी, सझुआर पंचायतों में मात्र 10 शौचालय का निर्माण हुआ है।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021