दरभंगा। नशीली दवा और गांजा कारोबार में पुलिस ने एक महिला को लहेरियासराय थानाक्षेत्र के कचहरी पोखर मोहल्ले से दबोच लिया। हालांकि, गिरफ्त में आई महिला का पुत्र पुलिस को चकमा देकर फरार हो गया। पकड़ी गई सुशीला देवी के निशानदेही पर पुलिस अब उसके पुत्र अनिल भंडारी को पकड़ने के लिए लगातार छापेमारी करने में जुटी है। पुलिस ने सुशीला के घर से छह सौ ग्राम गांजा, विभिन्न कंपनी के 1362 पीस नशीली दवाइयां, 150 पीस नशीली सूई, बिना नंबर की एक स्कूटी, 48 पैकेट सिगरेट, तीन मोबाइल के साथ 26 हजार 410 रुपये बरामद किया है। नगर एसपी योगेंद्र कुमार ने बताया गुप्त सूचना पर छापेमारी की गई। इसमें सुशीला को रंगे हाथ पकड़ लिया गया। मां और पुत्र मिलकर अनाधिकृत रूप से नशीली दवा बेचने का काम करते थे। बताया जाता है कि ये लोग युवाओं के हाथ ऊंची दाम पर नशीली दवा बेचने का काम करता था। सिगरेट में गांजा भरकर बेचने की बात सामने आई है।

नगर एसपी कुमार ने बताया कि ये लोग दवा जहां से खरीदते थे, इसकी जानकारी ली गई है। अब उन दुकानदारों पर कार्रवाई की जाएगी। छापेमारी टीम में दारोगा संतोष कुमार, रेखा कुमार और सहायक दारोगा शंभू ठाकुर शामिल थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस