दरभंगा। रेलवे स्टेशन पर स्थित जनरल टिकट काउंटर और पीआरएस (पैसेंजर रिजर्वेशन सिस्टम) काउंटर भी अब रेलवे ने ठेके पर देने की पूरी तैयारी कर ली है। इसे लेकर समस्तीपुर रेल मंडल के सभी ई ग्रेड स्टेशन इसके जद में आए हैं। मंडल के कम राजस्व देने वाले स्टेशनों पर टेंडर की प्रकिया अंतिम चरण में है। लहेरियासराय स्टेशन सहित रेल मंडल के लगभग 40 ई ग्रेड स्टेशनों पर अब निजी एजेंसियों के कर्मी टिकट काउंटर का जिम्मा संभालेंगे। वर्तमान में लहेरियासराय स्टेशन के टिकट काउंटरों पर छह रेलवे कर्मी तैनात हैं। बता दें कि मालदा डिविजन के 15 स्टेशनों के टिकट काउंटरों पर निजी एजेंसियों के कर्मी काम कर रहे हैं। दरअसल रेलवे में निजीकरण की तैयारी बड़े स्तर पर की जा रही है। रेलवे स्टेशन पर सफाई व्यवस्था, कैटरिग सर्विस, पूछताछ केंद्र सहित अन्य कुछ व्यवस्थाएं तो पहले से ही ठेके पर चल रही है। वहीं अब टिकट काउंटरों को भी निजी संवेदकों के हवाले किए जाने को लेकर रेलवे कर्मियों में बेचैनी देखी जा सकती है। बता दें कि हाल ही में रेल मंडल के प्रत्येक स्टेशनों के पूछताछ केंद्र को निजी संवेदकों के हवाले कर दिया गया है। वहीं दूसरी ओर टिकट काउंटरों को निजी एजेंसियों के हवाले किये जाने की बात से ही टिकट काउंटरों के रेल कर्मियों में अभी से ही आक्रोश देखा जा सकता है। टिकट काउंटर पर काम कर रहे एक कर्मी ने बताया कि रेलवे निजीकरण के नाम पर वर्षों से काम कर रहे कर्मियों को प्रताड़ित कर रही है। टिकट काउंटरों को निजी एजेंसियों के हवाले करने के बाद हमलोगों को क्या जिम्मेदारी दी जाएगी। यह अबतक पता नहीं चल पाया है?

---------------------

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस