दरभंगा। सुगमतापूर्वक विवाद निपटारे के लिए समझौता सर्वोत्तम उपाय है। इसके माध्यम से निष्पादित मामलों में समस्याओं का स्थाई समाधान निहित है। इसकी सफलता का सशक्त माध्यम राष्ट्रीय लोक अदालत है। उक्त बातें जिला विधिक सेवा प्राधिकार की ओर से आयोजित राष्ट्रीय लोक अदालत के उद्घाटन समारोह को संबोधित करते हुए जिला जज सह प्राधिकार के अध्यक्ष राजकुमार सिंह ने कही। कहा कि छोटे विवाद सामाजिक विकास के मार्ग में बाधक हैं। वैश्विक स्पर्धा के दौड़ में यह अनिवार्य हो गया हैं कि हम अपने विवादों को भुलाकर शांतिपूर्ण जीवन बसर करें। इसी उद्देश्य से पूरे देश में लगातार राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन हो रहा है। प्राधिकार के सचिव जावेद आलम ने कहा कि लोक अदालत में ना केवल लंबित मामले सुलझाए जाते हैं, बल्कि विवाद से पूर्व मामलों को हल किया जाता है। लोक अदालत में निशुल्क और ऑन द स्पॉट न्याय मिलता है। इसे अपनाकर पक्षकारों के समय और धन की बचत होती है।

इससे पहले कार्यक्रम का उदघाटन दीप प्रज्वलित कर जिला जज राजकुमार सिंह, प्रथम एडीजे संजय अग्रवाल, स्थाई लोक अदालत के पीठासीन पदाधिकारी नंद किशोर तिवारी, बार एसोसिएशन का अध्यक्ष रविशंकर प्रसाद, महासचिव कृष्ण कुमार मिश्रा ने संयुक्त रुप से किया। संचालन सचिव जावेद आलम ने किया।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस