बक्सर। नदियों की स्वच्छता को लेकर सोमवार को चौसा च्यवन स्थल स्थित महादेवा घाट नदी चेतना यात्रा का शुभारंभ हुआ। इसके तहत 20 महिला-पुरुष साइकिल सवार को मुख्य अतिथि जिलाधिकारी अमन समीर, वन प्रमंडल अधिकारी मिहिर कुमार झा तथा पानी रे पानी संस्था के संयोजक पंकज मालवीय ने झंडी दिखा रवाना किया गया।

इससे पहले नदी चेतना के तहत कार्यक्रम का आयोजन किया गया। मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित जिला पदाधिकारी ने मानव जीवन में नदियों की महत्ता को बताते हुए इसके संरक्षण का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि नदियों के संरक्षण का दायित्व आम जनों को लेना होगा। उन्होंने सरकार की चल रही योजना जल जीवन व हरियाली से जोड़कर भविष्य में कार्य करने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि नदी की स्वच्छता जरूरी है। यही नहीं, गांव में भी नदी, तालाब, पोखर को स्वच्छ बनाए रखना होगा। कार्यक्रम का आयोजन कर रहे वन प्रमंडल पदाधिकारी ने कहा कि प्रतिवर्ष सितंबर माह के अंत में विश्व नदी दिवस मनाया जाता है। इस वर्ष 26 सितम्बर को पटना में कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा। उन्होंने कहा कि नदियों की महत्ता के बारे में आम जनों के बीच जागरूकता फैलाने तथा नदियों के संरक्षण के लिए राज्य की सीमा महर्षि च्यवन स्थल स्थित महादेवा घाट से साइकिल रैली का शुभारंभ किया गया। इसमें 11 पुरुष व नौ महिला स्वयंसेवी जो पानी रे पानी संस्था से जुड़ी हैं। ये लोग नदी तटीय इलाकों गांव में रुककर लोगों को नदी के संबंध में उसकी महत्ता एवं संरक्षण के बारे में जागरूक करेंगे। इस दौरान नीम, पीपल व आम का पौधारोपण किया गया। मौके पर डा. मनोज कुमार यादव, भाजपा प्रखंड अध्यक्ष अमर गोंड़ आदि उपस्थित रहे।

Edited By: Jagran