बक्सर। दानापुर-मुगलसराय रेलखंड अंतर्गत दिलदारनगर जीआरपी ने प्लेटफॉर्म एक पर खड़े दो वांछित ट्रेन लुटेरों को दबोच लिया। तलाशी में उनके पास से 150 ग्राम नशीला पाउडर, चार सोने की अंगूठी, एक सोने का मंगलसूत्र, दो सोने की चूड़ी तथा सोने के टॉप्स, एक जोड़ी कान की बाली के साथ एक चोरी की मोबाइल व 1500 रुपये नकद बरामद किया गया। पूछताछ के बाद बदमाशों को जेल भेज दिया गया।

इस संबंध में दिलदारनगर जीआरपी चौकी प्रभारी केदारनाथ मौर्य ने बताया कि किसी ने फोन पर बताया कि किसी ट्रेन में लूट की घटना को कुछ लोग अंजाम देने की फिराक में है। दिलदारनगर के वार्ड 2 फतेहपुर बाजार में किराया के मकान में रह रहे दानिश उर्फ बौना पुत्र अलाउद्दीन तथा सोनू दास उर्फ बंगाली निवासी इस्लामपुर थाना मुगलसराय जनपद चंदौली जमानियां स्टेशन पर मौजूद है। सूचना पर दल-बल के साथ मौके पर पहुंच गए और प्लेटफार्म संख्या एक पर खड़े दो संदिग्ध युवकों पर नजर पड़ी। शक होने पर जब पुलिसकर्मीयों ने उनको बुलाया तो वे भागने लगे। हालांकि, कुछ ही दूरी पर दौड़ाकर उन्हें जवानों ने पकड़ लिया। पूछताछ में दोनों ने बताया कि विभिन्न ट्रेनों में रेल यात्रियों के साथ लूटपाट की घटना को अंजाम देते थे। दोनों के विरुद्ध मुगलसराय जीआरपी रेल थाना में चोरी, लूटपाट सहित कई अन्य मुकदमे भी दर्ज है।

दानिश है मास्टर माइंड

चौकी प्रभारी केदारनाथ मौर्य ने बताया कि दानिश उर्फ पाशा ट्रेन लुटेरा है। वह बीते वर्ष 2016 में मिर्जापुर स्टेशन के पास रेल पटरी के जॉइंट पर सिक्का रखकर अपने साथियों के साथ लूटकांड में शामिल भी था। पुलिस ने इसे जेल भी भेजा था। 2017 जून माह में जेल से छूटने के बाद वह फिर ट्रेनों में चोरी व लूटपाट की घटनाओं में अंजाम देने लगा।

20 नवंबर को भी पकड़ा गया था इनामी बदमाश

दिलदारनगर जीआरपी ने 20 नवंबर को भी ट्रेन लुटेरा व चोर पांच हजार का इनामी नईम सिद्दकी उर्फ बच्चा पुत्र मो. इस्लाम निवासी आदमपुर वाराणसी अपने एक साथी अमानुरहमान पुत्र अनीस रहमान निवासी तेलिया बाग थाना आदमपुर, वाराणसी को नशीला पदार्थ, पांच थान सोने के गहने, 13 चोरी के मोबाइल तथा दो हजार रुपया नकदी के साथ जमानियां स्टेशन पर गिरफ्तार किया था।

By Jagran