बक्सर : दो दिन पूर्व धनसोई थाना क्षेत्र अंतर्गत गोगही मार्ग पर सरेशाम माइक्रो फाइनांस कर्मी से हुई सवा लाख लूट का पुलिस ने महज 24 घंटे के अंदर उद्भेदन करते हुए लूट में शामिल तीनों अपराधियों के साथ ही लाइनर की भूमिका निभाने वाले दो अभियुक्तों को भी गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तार अपराधियों के पास से पुलिस ने लूटे गए पैसों के साथ ही लूट के दौरान इस्तेमाल किए गए हथियार के साथ चोरी की एक बाइक भी बरामद कर ली है। सदर डीएसपी गोरख राम ने पूरे मामले का खुलासा करते बताया कि सरेशाम लूट की सूचना मिलते ही पुलिस अधीक्षक नीरज कुमार सिंह के निर्देश पर उनके नेतृत्व में टीम का गठन कर छानबीन शुरू कर दी गई। दरअसल घटना के दौरान अपराधियों ने माइक्रो फाइनांस कर्मी की बैग समेत उसकी मोबाइल भी छीन ली थी। पुलिस के हाथ कर्मी की मोबाइल ही सबसे महत्वपूर्ण सुराग था। मोबाइल नम्बर के तकनीकी अनुसंधान के क्रम में जल्द ही अपराधियों के बारे में एक के बाद एक कर खुलासा होता चला गया और लूट को अंजाम देने वाले तीनों अपराधियों की पहचान करते हुए जल्द ही उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया। तीनों की पहचान धनसोई के लालाचक निवासी रविद्र सिंह के पुत्र विकास कुमार, रोहतास के शिवसागर थाना निवासी रविरंजन कुमार उर्फ गुड्डू तथा कोचस के धेनुठा निवासी प्रिस कुमार के रूप में की गई है। तीनों से पूछताछ के बाद लाइनर का काम करने वाले लालाचक निवासी महेंद्र सिंह के पुत्र संतोष कुमार तथा संजय सिंह के पुत्र विपिन कुमार को भी गिरफ्तार कर लिया गया। पता चला कि माइक्रो फाइनांस कर्मी के नियमित रूप से जाकर पैसे वसूलते देख दोनों लाइनरों की आंख पर मोटी रकम चढ़ी थी जिसके लिए उन्होंने विकास से संपर्क कर उसे पूरी बात बताई। चुकी मामला अकेले विकास के बस का नहीं था, लिहाजा उसने अपने दो अन्य साथियों को रोहतास से बुलाया और हथियार के बल पर तीनों ने मिलकर घटना को अंजाम दे दिया। डीएसपी ने बताया कि गिरफ्तार अपराधियों के पास से लूट के 79520 रुपयों के साथ ही लूटी गई मोबाइल के साथ ही घटना में इस्तेमाल हथियार और बाइक के अलावा चोरी की गई एक बुलेट बाइक भी बरामद की गई है। -छापेमारी में शामिल पुलिस टीम के सदस्य

अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए प्रशिक्षु डीएसपी अमरनाथ के नेतृत्व में पुलिस निरीक्षक मनोज कुमार सिंह, धनसोई थानाध्यक्ष कमलनयन पांडेय के अलावा डीआइयू प्रभारी राजेश मालाकार, रंजीत कुमार, सिपाही राजकुमार ठाकुर के साथ ही सिपाही रवि कुमार, विकास कुमार, सोनू कुमार, पिटू कुमार, धीरज कुमार, अनुराग कुमार, शशि कुमार और मनीष के अलावा अन्य सिपाही शामिल थे।

Edited By: Jagran