बक्सर । गिरधर बरांव पंचायत के जन वितरण प्रणाली के दुकानदार द्वारा दो माह का राशन देने के बाद तीन माह का हस्ताक्षर कराया जाता है। इस पंचायत के बिचली भरौली गांव निवासी स्व.बुधन राय की पत्नी शनिचरी देवी का कहना है कि इनके परिवार में कुल आठ सदस्य हैं, लेकिन पीडीएस दुकानदार द्वारा सिर्फ दो लोगों को ही राशन दिया जाता है वो भी मनमानी तरीके से। ऐसे दर्जनों परिवार है जिन्हे ससमय उनके हक का राशन उपलब्ध नहीं होता है।

बुधवार को अति पिछड़ा बाहुल्य इस गांव में गुजर-बसर करने वाले पचासों की संख्या में महिला एवं पुरुष लाभार्थियों ने जन वितरण प्रणाली के दुकानदार राधाकृष्ण साह की मनमानी के खिलाफ हाथ में कार्ड लेकर विरोध प्रदर्शन किया। इस गांव की सुग्रीव राय की पत्नी लखमानो देवी का कहना है कि इनके पति का तबीयत बहुत खराब होने के कारण अस्पताल में इलाज चल रहा था। दो-वार दिन विलंब से आने के बाद डीलर के द्वारा राशन देने से इंकार कर दिया गया। गांव की सुशीला देवी का आरोप है कि पिछले दो साल से इन्हें राशन नहीं मिल रहा है। यहां विरोध प्रदर्शन कर रहे ग्रामीणों ने कहा कि अभी तीन-चार दिन पहले आपूर्ति पदाधिकारी के निरीक्षण में खाद्यान्न वितरण में लापरवाही का मामला उजागर होने के बाद विभाग द्वारा अभी तक कार्रवाई नहीं होना ¨चता की बात है। इन लाभार्थियों में रामाशीष राय, फूलपातो देवी, राजकुमारी देवी, प्रभावती देवी, लखमानो देवी, मैना देवी, चंपा देवी प्रभावती देवी, केना देवी, विशाल राय, बिहारी राय एवं शशि राय सहित कई लाभार्थियों ने पीडीएस दुकानदार पर गरीबों का हकमारी करने के आरोप में लाईसेंस रद करने की मांग की है। हांलाकि, पीडीएस दुकानदार राधाकृष्ण साह ने कहा कि वह अनाज देने में कोई गड़बड़ी नहीं करता। कहती हैं पंचायत की मुखिया :

पंचायत की मुखिया मिथिला देवी का कहना है कि इस समस्या को लेकर कई बार विभागीय अधिकारियों का ध्यान आकृष्ट कराया गया, लेकिन आज तक कोई कार्रवाई न होना विभागीय उदासीनता को दर्शाता है। बयान :

शिकायत मिलने पर आपूर्ति पदाधिकारी द्वारा दिए गए जांच प्रतिवेदन अनियिमितता की पुष्टि हुई है। संबंधित पीडीएस दुकानदार के खिलाफ कार्रवाई की तैयारी की जा रही है।

हरेन्द्र राम, एसडीओ, डुमरांव।

Posted By: Jagran