बक्सर : नियाजीपुर बाजार में व्याप्त अतिक्रमण की समस्या को पूरी तरह समाप्त करने के लिए प्रशासनिक कवायद तेज हो गई है। दैनिक जागरण का फुटपाथ हमारा है अभियान यहां रंग लाने लगा है। प्रशासन ने अतिक्रमण को संज्ञान में लिया है। अभियान के प्रथम चरण में बाजार स्थित सड़क के दोनों किनारे फुटपाथ आधारित दुकानदारी करने वाले कार्रवाई की जद में रहे। शुक्रवार को अंचलाधिकारी कौशल कुमार द्वारा बाजार में सड़क के दोनों तरफ के फुटपाथ को जेसीबी मशीन से साफ कराया गया।

इतना ही नहीं फुटपाथ आधारित दुकानदारी करने वालों को सख्त चेतावनी भी दी गई कि दुबारा ऐसा करने पर न सिर्फ प्राथमिकी दर्ज कराई जाएगी, बल्कि सारा सामान भी जब्त कर लिया जाएगा। अंचलाधिकारी ने बताया कि फुटपाथ आधारित दुकानदारी से बाजार का स्वरूप दिन प्रतिदिन संकीर्ण होता जा रहा था। जाम की समस्या से लोगों की परेशानियां बढ़ गई थी। बार-बार नोटिस निर्गत करने के बावजूद ऐसे दुकानदार अपनी आदतों से बाज नहीं आ रहे थे, जिसके चलते प्रशासन को यह कदम उठाना पड़ा। उन्होंने कहा कि यह तो मात्र अभियान की शुरुआत है। आगे बाजार की मापी कर उसे पूरी तरह अतिक्रमण मुक्त कराया जाएगा। सीओ की माने तो प्रशासन का अगला टारगेट सिमरी बाजार एवं काजीपुर गांव स्थित दो सरकारी गड्ढे को अतिक्रमण मुक्त कराना है। इसकी भी सारी प्रक्रिया पूरी कर ली गई है और किसी भी दिन कार्रवाई शुरू हो सकती है। बताते चलें कि दियारे के मुख्य व्यावसायिक प्रतिष्ठानों में फुटपाथ आधारित दुकानदारी से प्रतिदिन घंटों जाम लगना आम बात हो गया है। इस दौरान यदि किसी व्यक्ति ने ऐसे दुकानदारों के विरुद्ध आवाज मुखरित किया तो उन्हें उनके कोप भाजन का शिकार भी होना पड़ रहा है। हालांकि, प्रशासन की इस कार्रवाई से फुटपाथ आधारित दुकानदारी करने वालों में अफरातफरी का माहौल व्याप्त है।

Edited By: Jagran