बक्सर : पटना से कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच कोविड का टीका गुरुवार को बक्सर लाया गया। यहां सदर अस्पताल में वैक्सीन के पहुंचने के इंतजार में सिविल सर्जन डॉ.जितेन्द्र नाथ एवं जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ.राजकिशोर सिंह पहले से ही मौजूद थे। जैसे ही सुरक्षा व्यवस्था के साथ वैक्सीन वैन अस्पताल में प्रवेश किया, अधिकारी वैन की ओर लपके और उनकी निगरानी तथा देखरेख में कोविड वैक्सीन को जिला भंडार गृह में सुरक्षित रखा गया।

जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ.राजकिशोर सिंह ने बताया कि शुक्रवार को पूर्व चिह्नित सभी सत्र स्थलों पर कोविड का टीका भेज दिया जाएगा और शनिवार से वहां टीकाकरण की प्रक्रिया प्रारंभ कर दी जाएगी। जाहिर हो, जिले में 16 जनवरी को पहले चरण के टीकाकरण के लिए तैयारियां पूरी हो चुकी हैं। बताया जाता है कि टीकाकरण के लिए राज्य सरकार द्वारा जिला स्वास्थ्य समिति को कोविशिल्ड की 7760 डोज की खेप भेजी गई है। जिले में लगभग रजिस्टर्ड 6500 हेल्थ वर्कर्स को पहले चरण में टीका लगाया जाएगा। इसमें चिह्नित डॉक्टर, एएनएम, स्वास्थ्य कर्मी, आंगनबाड़ी केंद्रों की सेविका व अन्य शामिल हैं। जिलाधिकारी अमन समीर स्वयं व्यवस्था की पूरी निगरानी कर रहे हैं। ताकि, किसी भी स्तर पर गड़बड़ी न हो सके। बता दें कि पहले चरण में बक्सर में सदर अस्पताल, सदर प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र, सिविल लाइन्स स्थित जीएनएम स्कूल व निजी संस्थान मां शिवरात्रि हेल्थ अस्पताल में पहले चरण का टीकाकरण संपन्न होगा। इनके अलावा नावानगर, ब्रह्मपुर एवं डुमरांव स्थित प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र में टीका दिया जाएगा। मौके पर सीएस एवं डीआईओ के अलावा चिकित्सा पदाधिकारी डॉ.अनिल कुमार सिंह, डीपीएम संतोष कुमार, वीसीसीएम मनीष सिन्हा समेत विभाग के अन्य लोग मौजूद थे।

टीका लेने के बाद भी करना होगा नियमों का सख्ती से पालन

सत्र के संचालन हेतु हर सत्र स्थल पर तीन कमरों को चिह्नित किया गया है। इसमें पहला प्रतीक्षा कक्ष, दूसरा टीका कक्ष एवं तीसरा अवलोकन कक्ष निर्धारित किया गया है। प्रत्येक टीका कर्मी के साथ एडवर्स इवेंट फॉलोइंग इम्युनाजेशन (एईएफआई) किट भी दिया गया है। जिसको लेकर सभी एएनएम को प्रशिक्षण दिया जा चुका है। टीका का दो डोज दिया जाना है। पहले डोज के 28 दिनों के बाद उन्हें दूसरा डोज दिया जाएगा। कोविशिल्ड के दूसरे डोज के पश्चात 15 दिनों तक सभी की निगरानी की जाएगी। साथ ही, टीका लेने वालों को पूरी सतर्कता से चिकित्सीय परामर्श का अनुपालन करना होगा। टीका लेने के बाद भी लोगों को कोविड-19 के नियमों का सख्ती से पालन करना होगा।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021