आरा। भोजपुर जिले के गड़हनी थाना क्षेत्र अन्तर्गत आरा-सासाराम स्टेट हाईवे पर नहसी गांव के समीप शुक्रवार की शाम एक अनियंत्रित सवारी गाड़ी ने सड़क पार कर रहे एक अधेड़ को रौंद दिया। जिससे अधेड़ की मौत हो गई। हादसे के बाद चालक गाड़ी लेकर भाग निकला। हादसा शाम करीब सात बजे के आसपास हुआ। दुर्घटना को लेकर अफरातफरी मची रही। मृतक 55 वर्षीय त्रिलोकी नाथ सिंह उर्फ लाल बाबू सिंह गड़हनी थाना क्षेत्र के बराप गांव के निवासी थे। वे गांव पर ही रहकर खेती- गृहस्थी करते थे। हादसे में मौत के बाद परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल था। बताया जाता है कि गड़हनी थाना क्षेत्र के बराप गांव निवासी त्रिलोकी नाथ सिंह उर्फ लाल बाबू सिंह शुक्रवार की दोपहर किसी काम को लेकर आरा आए हुए थे। संध्या समय बस से वापस अपने गांव लौट रहे थे। जैसे ही वह नहसी मोड़ के समीप बस से उतरकर सड़क पार कर रहे थे कि उसी दौरान विपरीत दिशा से आ रही सवारी गाड़ी ने उन्हें रौंद दिया। जिसमें वे गंभीर रूप से घायल हो गए। इसके बाद उन्हें आनन-फानन में इलाज के लिए सदर अस्पताल,आरा लाया जा रहा था कि रास्ते में दम तोड़ दिए। सदर अस्पताल में लाए जाने पर ऑन ड्यूटी चिकित्सक डॉ. शैलेश कुमार ने मृत घोषित कर दिया। इसके बाद इसकी सूचना टाउन थाना पुलिस को दी गई।जिसके बाद टाउन थाना की पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम सदर अस्पताल में कराया।

------

पांच बच्चों के सिर से उठा पिता का साया

गड़हनी के बराप गांव निवासी त्रिलोकी नाथ सिंह उर्फ लाल बाबू सिंह की हादसे में मौत के बाद पत्नी मुरातो देवी का रो-रोकर बुरा हाल है। चार पुत्रों शंभू शरण सिंह,पंकज कुमार सिंह,नीरज कुमार सिंह, धीरज कुमार सिंह एवं एक पुत्री सीमा सिंह है। जिनके सिर से पिता का साया हमेशा के लिए उठ गया है। इकलौती पुत्री सीमा सिंह की शादी हो चुकी है। घटना के बाद मृतक के परिवार में देर शाम कोहराम मच गया । सूचना मिलने पर सगे-संबंधी भी सदर अस्पताल,आरा पहुंच गए।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस