आरा। सिकरहटा थाना क्षेत्र के मोपती बाजार मेला मोड़ के समीप से गिरफ्तार मास्टर माइंड अनीश यादव उर्फ अनील यादव का लंबा आपराधिक इतिहास रहा है। वह पहले से सात कांडों में दागी रहा है। इसकी जानकारी भोजपुर एसपी हर किशोर राय ने दी। उन्होंने बताया कि पकड़ा गया अनीश यादव सिकरहटा थाना के पनवारी गांव का निवासी है। पहले से हत्या, लूटपाट व आ‌र्म्स एक्ट के चार कांडों में चार्जशीटेड रहा है। वर्तमान में सिकरहटा , चरपोखरी व पीरो थाना से जुड़े कांडों में फरार चला आ रहा था। हथियार बरामदगी को लेकर अलग से केस दर्ज किया गया है। उन्होंने बताया कि पुलिस को गुप्त सूचना मिली थी कि गंभीर कांडों में फरार अनीश यादव मोपती मेल मोड़ के समीप किसी घटना को अंजाम देने के लिए योजना बना रहा है। जिसके बाद टीम गठित कर छापेमारी की गई थी। छापेमारी के दौरान पुलिस ने घेराबंदी कर वांछित अनीश यादव को धर दबोचा। तलाशी के दौरान एक पिस्तौल व दो गोली बरामद किया गया।

---

जेल से छूटने के बाद भी कर रहा था गैंग का संचालन

पकड़े गए अपराधी के विरुद्ध साल 2009 से अब तक सात आपराधिक मामले मिले हैं, जो हत्या, लूट व डकैती संबंधी है। सिकरहटा में साल 2009 में घटित हत्या के मामले में वह पहले से चार्जशीटेड रहा है। इसके अलावा चरपोखरी थाना जुड़े लूटपाट व डकैती के तीन कांडों में भी उसके विरुद्ध कोर्ट में आरोप-पत्र समर्पित हो चुका है। पीरो थाना के दो व सिकरहटा थाना एक मामले में वह फरार चला आ रहा था जो लूटपाट व डकैती से संबंधित है। पूर्व में जेल भी जा चुका है। उसके पिता थाने के चौकीदार है। बावजूद वह जेल से जमानत पर छूटने के बाद पुन: गैंग तैयार कर लूटपाट की घटनाओं को अंजाम देना शुरू कर दिया था। 10 जुलाई 2020 को सिकहटा इलाके में घटित लूटपाट में भी उसकी संलिप्तता की बात सामने आई थी। अगस्त महीने में गैंग से जुड़े दो अपराधियों कथराई गांव निवासी अमरजीत चौधरी उर्फ मुंशी चौधरी तथा एकौनी गांव का निवासी आकाश यादव को गिरफ्तार कर जेल भेजा गया था। वह फरार चला आ रहा था।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस