आरा। भोजपुर के शाहपुर प्रखंड अन्तर्गत झौंवा गांव में मंगलवार को बिजली के शार्ट सर्किट से लगी आग से करीब दर्जनभर से ज्यादा दलितों का झोपड़ीनुमा घर जलकर राख हो गया। घरों में रखी सामग्री जलकर बर्बाद हो गई। इसे लेकर काफी देर अफरातफरी मची रही। जानकारी के अनुसार शाहपुर अंचल क्षेत्र के झौवां गांव निवासी वीरेंद्र पासवान के झोपड़ीनुमा घर में पहली शार्ट-सर्किट से आग लगी। इसके बाद देखते ही देखते आग ने एक के बाद एक कर कई घरों को अपने चपेट में ले लिया। गरीबो के आंखों के सामने उनके आशियाने धुं-धुकर राख गए। स्थानीय लोगों ने इसकी सूचना अधिकारियों को दी। साथ ही साथ आग पर काबू पाने का अथक प्रयास भी किया। लेकिन,तेज हवा के कारण स्थानीय लोग आग पर काबू नहीं पा सके। आगलगी के दौरान घरों में सोए महिलाएं, बच्चे और बुजुर्ग जान बचाने के लिए चीखते- चिल्लाते हुए घरों से भाग खड़े हुए। करीब दो घंटे के बाद आग पर काबू पाया जा सका। हालांकि, तबतक गरीबों के घरों में रखी खाद्य सामग्री, नगदी, वस्त्र व खाना पकाने के बर्तन व साइकिल सबकुछ जलकर बर्बाद हो गया। राजस्व कर्मचारी संजय सिंह व नाजीर जितेंद्र कुमार के अनुसार अग्नि पीड़ितों में वीरेंद्र पासवान, विमल पासवान, अखिलेश पासवान, प्रमोद पासवान, सीताराम दुसाध, उषा देवी, रामजी गोंड, छठू गोंड, पूजा देवी, पिटू गोंड, पार्वती देवी व सीताराम गोंड़ शामिल हैं। अग्नि पीड़ितों में से चार परिवार को पॉलीथिन सीट दिया गया है। सीओ रवि शंकर सिन्हा ने बताया कि अग्नि से प्रभावित सभी परिवारों को पॉलीथिन सीट दिया जाएगा। जल्द ही सभी प्रभावितों को आपदा प्रबंधन विभाग के प्रावधानों के अनुसार प्रत्येक परिवार को 9800 रुपये दिया जाएगा।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस