भागलपुर, जेएनएन। विक्रमशिला की धरती पर 29 फरवरी से आयोजित होने वाले तीन दिवसीय विक्रमशिला महोत्सव की तैयारी तेज हो गई है। महोत्सव स्थल पर मंच और पंडाल का निर्माण कार्य शुरू हो चुका है। एसडीओ सुजय कुमार सिंह, सहायक अनुमंडल पदाधिकारी शंभू शरण सिंह, बीडीओ रज्जन लाल निगम, सीओ मोइज जिया, प्रमुख नूतन देवी, मुखिया ललिता देवी ने महोत्सव स्थल पर पहुंचकर तैयारी का जायजा लिया। साथ ही कई आवश्यक निर्देश दिए। निरीक्षण के बाद अनुमंडल कार्यालय में समीक्षा बैठक हुई, जिसमें एसडीओ ने बताया महोत्सव के पहले दिन बॉलीवुड के जाने-माने गायक विनोद राठौड़ एवं दूसरे दिन इंडियन आइडल फेम गायिका धनबाद की पूजा चटर्जी का कार्यक्रम होगा। बैठक में महोत्सव के अंतिम दिन दो मार्च को कहलगांव एनटीपीसी से कलाकार लाने की बात फिर उठी है। हालांकि, एनटीपीसी की ओर से अभी तक कोई जवाब नहीं मिला है।

दीपावली की तरह विक्रमशिला महोत्सव मनाने की अपील

कहलगांव के जगन्नाथ स्वामी धर्मशाला में विक्रमशिला नागरिक समिति की बैठक हुई, जिसकी अध्यक्षता राजनरायण सिंह और संचालन डॉ. एनके जायसवाल ने किया। बैठक में विक्रमशिला महोत्सव को भव्य रूप देने के लिए आम लोगों से महोत्सव को दीपावली की तरह मनाने की अपील की गई। इसके लिए 29 फरवरी को सभी सरकारी कार्यालयों, गैर सरकारी शिक्षण संस्थानों, घरों और प्रतिष्ठानों में दीप, मोमबत्ती और रंग-बिरंगी लाइट से सजावट करने की अपील की गई। कहलगांव नगर में 25 फरवरी को नुक्कड़ सभा और जागरूकता अभियान चलाने का निर्णय लिया गया। इसके अलावा महोत्सव में आने वाले मंत्रियों को सम्मान पत्र देते हुए विक्रमशिला में केंद्रीय विश्वविद्यालय की स्थापना के लिए जमीन अर्जन की प्रक्रिया शुरू करने, बौद्ध सर्किट से जोडऩे, गंगा के बीच स्थित तीन पहाड़ी को पर्यटन क्षेत्र घोषित करने की मांग की जाएगी। बैठक में मुखिया नासरीण परवीन, जगन्नाथ गुप्ता, मुनेश्वर गुप्ता, विनोद कुमार यादव, विनय सिंह, देवकी नंदन शर्मा, संदीप रूगंटा, अनिता झा आदि मौजूद रहीं।

Posted By: Dilip Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस