संवाद सूत्र, अररिया। सासाराम के भूअर्जन पदाधिकारी सह नगर निगम आयुक्त राजेश कुमार गुप्ता के पैतृक निवास फारबिसगंज के दो ठिकानों पर विजिलेंस ने छापेमारी की है। शनिवार की सुबह से विभाग के पदाधिकारी छापेमारी में लगे हुए हैं। बताया जाता है कि विभाग की टीम के द्वारा सासाराम में भी छापेमारी की जा रही है। छापेमारी से फारबिसगंज व्यवसायियों में हड़कंप का माहौल है। जानकारी मुताबिक, आय से अधिक संपत्ति के मामले में ये रेड पड़ी है।

ये भी पढ़ें: OMG! कटिहार से मिला कालाधन: ये रुपये नहीं खपा पाई मंत्री जनक राम के OSD की महिला मित्र, मिली हजार और 500 के पुराने नोटों की गड्डियां

निगरानी ने नगर थाना क्षेत्र के डीएम कॉलोनी में राजेश कुमार गुप्ता के आवास पर छापेमारी की है। सुबह से ही निगरानी की टीम लगातार दबिश बनाए हुए है। बिहार में लगातार भ्रष्ट अधिकारियों पर कार्रवाई की श्रृंखला में इसे जोड़कर देखा जा रहा है। इसके अलावे निगरानी की टीम सासाराम के समाहरणालय स्थित भू-अर्जन पदाधिकारी के कार्यालय में भी जांच कर रही है। सुबह से ही भू-अर्जन विभाग तथा नगर निगम के विभिन्न फाइलों को खंगाला जा रहा है। 

  • निगरानी की टीम लगातार राजेश कुमार गुप्ता को लेकर विभिन्न कार्यालयों में घूम रही है।
  • निगरानी के अधिकारियों ने बताया कि पूरी कार्रवाई की जल्द ही डिटेल्स दी जाएगी।
  • मिली जानकारी के अनुसार अररिया के फारबिसगंज में भी छापामारी चल रही है।
  • भू अर्जन पदाधिकारी का पैतृक घर फारबिसगंज बताया जाता है।
  • उनके भाई पवन कुमार गुप्ता के यहां भी छापेमारी की सूचना है।
  • छापेमारी पूरी होने के बाद ही पूरी जानकारी उपलब्ध होने की बात कही जा रही है।
  • भू-अर्जन के मामले में पिछले कई सालों से यह रोहतास जिला में पदस्थापित हैं और इन पर कई गंभीर आरोप लगे थे।

इसकी जांच भी चल रही थी। ऐसा भी हो सकता है कि उसी मामले में ये कार्रवाई हो रही हो। हाल के दिनों में यह नगर निगम के नगर आयुक्त के प्रभाव पर भी काम कर रहे थे। इसकी भी काफी चर्चा हो रही थी। देखना होगा कि छापेमारी के बाद क्या कुछ हाथ लगता है। इससे पहले शुक्रवार को भी विजिलेंस ने बड़ी कार्रवाई करते हुए बिहार के पटना, अररिया और कटिहार में छापेमारी की। ये छापेमारी खनन विभाग के ओएसडी के ठिकानों पर की गई।

Edited By: Shivam Bajpai