जागरण संवाददाता, भागलपुर। दूसरों की जमीन और फ्लैट को अपना बताकर एक दर्जन से अधिक लोगों से लाखों की ठगी करने वाले शातिर मुहम्मद खालिद को बरारी पुलिस ने पटना से गिरफ्तार कर लिया। उसे पूछताछ बाद गुरुवार की शाम न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया। खालिद के विरुद्ध पटना के कोतवाली में तीन तथा भागलपुर के बरारी थाने में दो मुकदमे दर्ज हैं। एसएसपी निताशा गुड़िया के निर्देश पर बरारी थानाध्यक्ष नवनीश कुमार के नेतृत्व में पुलिस टीम ने बुधवार को शास्त्री नगर, पटना से उसे गिरफ्तार किया और भागलपुर पहुंची। उससे पूछताछ में कई जानकारियां हासिल की है।

खालिद पर सारे मुकदमे धोखाधड़ी और साजिश रचने के आरोप में दर्ज हैं। बरारी पुलिस उसके आपराधिक इतिहास के लिए पूर्णिया से भी संपर्क करने की बात कही है। उसके विरुद्ध वहां के खजांची हाट थाने में भी 2019 में किसी शिक्षक की तरफ से शिकायत दर्ज कराने की बात सामने आ रही है। बरारी थाना क्षेत्र के छोटी खंजरपुर झौआ कोठी के सहदेव इनक्लेव में रहने वाले बांका के बौंसी हरिमोहरा गांव निवासी राजीव कुमार झा और उनकी पत्नी श्वेता भारती ने आठ नवंबर 2019 को 22 लाख रुपये की ठगी का केस बरारी थाने में दर्ज कराया था।

पटना के फ्रेजर रोड, कोतवाली निवासी खालिद ने सहदेव इनक्लेव झौआ कोठी, छोटी खंजरपुर की फ्लैट संख्या 301 को अपना बता दंपती से 22 लाख रुपये ठग लिए थे। जांचकर्ता अवर निरीक्षक शशि भूषण प्रसाद ने बताया कि शातिर काफी दिनों से पुलिस से लुकाछिपी खेल रहा था। उसकी गिरफ्तारी बरारी पुलिस की बड़ी उपलब्धि है।

लॉटरी के तीन धंधेबाज गिरफ्तार

लॉटरी के तीन धंधेबाजों को नवगछिया थाना की पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। आरोपित नवगछिया बाजार के हडिय़ापट़््टी निवासी शंकर सर्राफ, राजेश चिरानिया सहित तीन आरोपित हैं। पुलिस ने आरोपित के पास से भारी मात्रा में लॉटरी का टीकट बरामद किया हैं। इस संबंध में नवगछिया थाना आरोपित के विरूद्ध प्राथमिकी दर्ज किया हैं। पुलिस मामले की जांच कर रही हैं।

Edited By: Shivam Bajpai