संवाद सूत्र, शाहकुंड: भागलपुर के शाहकुंड प्रखंड के सजौर थाना क्षेत्र के राधानगर गांव का प्रेमी आशीष ने अपने प्यार को मुकर्रर करने के लिए प्रेमिका की मांग में सिंदूर भर दिया। यही नहीं, उसे घर ले आया। लेकिन अगले दिन उसकी प्रमिका थाने जा पहुंची। प्रेमिका ने आवेदन देते हुए कहा कि आशीष के घर वाले उसे बहू मानने से इंकार कर रहे हैं, जबकि आशीष ने उसे पत्नी का दर्जा दिया है। उससे शादी की है।

प्रेमिका का कहना है कि आशीष के स्वजनों ने इस रिश्ता को मानने से इंकार कर दिया है और उसे घर से भगा दिया है। न्याय की गुहार लगाने सजौर थानाध्यक्ष के पास पहुंची युवती ने पूरे मामले पर लिखित आवेदन दिया है। मामले के बारे में थानाध्यक्ष महाश्वेता सिन्हा ने बताया कि युवती का आवेदन मिला है। मामले की जांच कर आगे की कार्रवाई की जाएगी। वहीं प्रेमिका द्वारा बताया गया कि आशीष से बीते 3 वर्षों से प्रेम प्रसंग चल रहा है।

पढ़ें: हत्यारा बोला- शारीरिक संबंध के लिए राजी नहीं हुई बीवी, रोने लगा 3 माह का मासूम, तो मार डाला

बीते शुक्रवार की रात्रि प्रेमी आशीष के द्वारा युवती को गांव के बाहर बुलाकर उसकी मांग में सिंदूर भर दिया गया और पत्नी का दर्जा दे दिया। लेकिन जब इस बात की जानकारी आशीष के स्वजनों को लगी तो स्वजनों द्वारा इस रिश्ते से इंकार कर युवती को घर से भगा दिया। युवती न्याय के लिए अब दर-दर भटक रही है। युवती का आरोप है कि प्रेमी आशीष ने उसके साथ फिजिकल रिलेशन भी बनाए हैं। देखना होगा कि इस प्रेम कहानी में युवती को न्याय मिल पाता है या नहीं। फिलहाल, पुलिस प्रेमी आशीष के घर दबिश देने की योजना बना रही है और युवती को आश्वासन दे रही है कि अगर उसके आरोप सच हैं, तो कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

Edited By: Shivam Bajpai