जागरण संवाददाता, भागलपुर। अंतर सिर्फ वर्दी का है। यातायात व्यवस्था को पटरी पर लाने की कवायद में लगी नीली वर्दी पहने जवान की हनक ऐसी की खाकी वर्दी पर एक दिन में ही भारी नजर आने लगी। नीली वर्दी वालों की चौराहे पर तैनाती का असर यह हुआ कि शुक्रवार को टेंपो और टोटो वाले सिस्टम में आ गए। तिलकामांझी के सभी ट्रैफिक सिग्नल को तोड़ता हुआ कोई नजर नहीं आया।

कल तक चौराहे पर आटो-टोटो खड़ा करके सवारी बैठाने वाले ट्रैफिक सिग्नल से दूर सड़क के किनारे सवारियां बिठाते रहे। दरअसल, डर सिर्फ वर्दी का है। खाकी वर्दी वाले सिपाही को सभी टेंपो वाले पहचानते हैैं। पहचान इस कदर बढ़ गई है उनसे अब डरने की जरूरत तक महसूस तक नहीं करते हैैं, लेकिन नीली वर्दी पहने जवानों से उनकी पहचान नहीं है, सो जवान को देखते ही वो किनारा काट ले रहे हैैं।

जवान भी उन पर कोई रहम नहीं कर रहे हैैं। भले ही तात्कालिक व्यवस्था हो लेकिन सिस्टम में सुधार तो जरूर दिखा। पुलिस कप्तान के इस प्रयोग ने थोड़ा कमाल तो दिखाया है। पुलिस की इस कवायद से यातायात व्यवस्था पटरी जल्द लौटेगी ऐसा कयास लगाया जा रहा है।

गायब हो गया जिब्रा क्रासिंग

भले ही प्रयोग के तौर पर तिलकामांझी चौक पर सिग्नल के पास जिब्राक्रासिंग के चिन्ह बनाये गये थे। यातायात व्यवस्था के ध्वस्त होते ही। सड़क पर उकेरी गई लकीरें भी समाप्त हो गई। यह पता ही नहीं चलता है कि सिग्नल पर कहां गाड़ी को रोका जाए। क्रासिंग पार करने पर जुर्माना लगेगा।

रोड डिवाइडर पुलिस के पास हैं पर्याप्त

यातायात व्यवस्था को नियंत्रित करने और रूट डायवर्ट करने के लिए रोड डिवाइडर पुलिस के पास पर्याप्त संख्या में है। शहरी क्षेत्र के बरारी रोड, जीरोमाइल-सबौर रोड, स्टेशन चौक-नाथनगर रोड के तीखा मोड़ पर खतरनाक जगहों पर हादसे से बचाव के लिए गहरे पीले रंग का निशान लगाया गया है जो हल्की रोशनी पडऩे पर भी रिफ्लैक्ट कर हादसे से बचाव करता है।

एसएसपी बाबू राम ने कहा कि तेज गति वाले वाहनों के विरूद्ध कार्रवाई के लिए शीघ्र तीन स्पीड रडार गन सड़कों पर दिखाई देंगे। ज्यादा दुर्घटना वाले स्पाट और दुर्घटना के कारणों को चिन्हित कर इनके निराकरण का उपाय किया जाएगा। शहर में ट्रैफिक नियमों का उल्लंघन करने वालों के विरुद्ध चालान अब इलेक्ट्रानिक डिवाइस के जरिए किया जाएगा। इससे एक से अधिक बार उल्लंघन करने वालों को चिन्हित कर अधिक जुर्माना होगा। तीन बार उल्लंघन करने पर ड्राइङ्क्षवग लाइसेंस निलंबित हो जाएगा।

हेलमेट नही पहनने, मोबाइल पर बात करते हुए वाहन चलाने, नशे में वाहन चलाने, ओवर स्पीड में वाहन चलाने और नाबालिग द्वारा वाहन चलाने के मामलों में सख्ती से कार्रवाई के लिए सभी थानाध्यक्ष को निर्देशित किया गया है। वाहनों पर आगे और पीछे दोनों नम्बर प्लेट नहीं रहने तथा हाइ सिक्योरिटी नम्बर प्लेट के रोड पर दिखने वाले वाहनों को जब्त करने का निर्देश दिया गया है।

Edited By: Abhishek Kumar